प्रीतमनगर कॉलोनी में हुई घटना, आसपास के लोग स्तब्ध, प्रिंसिपल ने भी तोड़ा दम

prayagraj@inext.co.in

PRAYAGRAJ: एक पत्‍‌नी दिवंगत हो चुकी थी। उससे तीन बच्चे भी थे। उसके जिंदा रहते ही दूसरी महिला की लाइफ में इंट्री हो गयी। पहली पत्‍‌नी की हार्ट अटैक से मौत हुई तो कुछ दिन बाद ही लिव इन रिलेशनशिप में रह रही दूसरी महिला भी छोड़कर चली गयी। इसके बाद तीसरी को ले आया। लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे। बाहर से लगता था कि दोनों की लाइफ बेहतर चल रही है लेकिन दोनों रिलेशन को लेकर प्रेशर में थे। शुक्रवार को दिल का गुबार बाहर आ गया और एडेड स्कूल के प्रिंसिपल का ओहदा संभालने वाले सख्श ने आपा खो दिया। उसने रिलेशनशिप में रहने वाली महिला को गोली मारने के बाद खुद को भी गोली मार ली। महिला ने स्पॉट पर ही दम तोड़ दिया। पुरुष ने अस्पताल में दम तोड़ा। इस घटना से बच्चे स्तब्ध रह गए। पुलिस भी सन्नाटे में थी।

चायल में थी पोस्टिंग

गोली मारकर मौत की नींद सुलायी गयी महिला का नाम राखी यादव था। खुद को गोली मारने वाले का नाम प्रमोद चौधरी था। प्रमोद की पोस्टिंग कौशाम्बी जिले के चायल में स्थित लाल बहादुर शास्त्री इंटर कॉलेज में प्रिंसिपल के पोस्ट पर थी। दोनो वर्तमान समय में प्रीतमनगर कॉलोनी में बने फ्लैट के ग्राउंड फ्लोर पर रहते थे। बच्चे फ‌र्स्ट फ्लोर पर स्थित रूम में थे। शुक्रवार दोपहर करीब सवा क्ख् बजे निचले फ्लैट से तीन गोली चलने की आवाज सुन बच्चे नीचे आ गए। बच्चे कमरे में पहुंचे तो गोली लगने से राखी की मौत हो चुकी थी। उसका शव बिस्तर पर पड़ा था। गंभीर रूप से घायल प्रमोद बिस्तर के पास फर्श पर तड़प रहा था। गोलियों की गूंज और बच्चों की चीख सुन मोहल्ले के लोग जुट गये। सूचना पर पहुंची धूमनगंज पुलिस घायल को लेकर एसआरएन हॉस्पिटल पहुंची। यहां उपचार के दौरान डॉक्टरों ने प्रमोद को भी मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने दोनों के शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया। राखी मृतक के साथ बगैर शादी लिव इन रिलेशन शिप में पिछले कई माह से रह रही थी।

प्रमोद के जीवन में तीसरी महिला थी राखी

मृतक प्रमोद चौधरी पुत्र रामआसरे मूल रूप से कौशाम्बी जिले सराय अकिल का रहने वाला था। करीब बीस वर्ष पूर्व प्रमोद की शादी पूरामुफ्ती के छबीलेपुर की उर्मिला उर्फ निर्मला से हुई थी। शादी के बाद उसे जुड़वा बेटे विराट और विक्रम हुए। इसके बाद एक बेटी दिव्या हुई। करीब डेढ़ साल पूर्व उर्मिला की मौत हो गई। पत्‍‌नी की मौत के कुछ वर्ष पूर्व प्रमोद चरवा के सटई गांव की एक युवती को ले आया। उसके साथ भी वह लिव इन रिलेशन में ही रह रहा था। करीब एक माह तक उसके साथ रहने के बाद वह वह प्रमोद से अलग हो गयी।

आठ महीने से साथ रह रही थी रेखा

इधर करीब सात-आठ माह से प्रमोद पूरामुफ्ती की राखी यादव के साथ अपने प्रीतमनगर कॉलोनी स्थित आवास में रह रहा था। प्रमोद ने राखी के साथ सात फेरे नहीं लिये थे। लेकिन, दोनों एक साथ एक ही कमरे में रहते थे। विहैबियर भी पति-पत्‍‌नी के जैसा ही था। कॉलोनी के जिस कमरे में वह राखी के साथ वह रहता था, उसे किराए पर ले रखा था। जिस फ्लैट में बच्चे रहते थे, उसे उसने खरीदा था।

राखी के सिर, प्रमोद के सीने में लगी गोली

इन दिनों प्रमोद का बड़ा बेटा विक्रम अपने गांव कनैली गया था। छोटा बेटा विराट व बेटी गोल्डी ही घर में थे। दोपहर के वक्त प्रमोद के कमरे से गोली चलने की आवाज आई तो दोनो भागकर प्रमोद के कमरे में पहुंचे। वहां खून से लथपथ दोनों को देख वे चीख पड़े। आसपास के लोग पहुंचे तो पुलिस को खबर दिए। राखी के बीच सिर में गोली लगी थी। उसका शव बिस्तर पर पड़ा था। प्रमोद बिस्तर के पास पैर की ओर गिरकर तड़प रहा था। इसके बाई तरफ सीने में गोली लगी थी। माथे पर भी घाव के निशान थे। पुलिस को स्पॉट पर खून से एक तमंचा मिला है। करीब चार बजे पहुंचे मृतका के अधिवक्ता भाई अनिल यादव ने पुलिस को तहरीर दी है। पुलिस के मुताबिक उसने तहरीर में बताया है कि किसी बात को लेकर दोनों के बीच झगड़ा हुआ। इसके बाद भाई प्रमोद में महिला को गोली मारने के बाद खुद को शूट कर लिया। पुलिस इस केस में मर्डर के क्लू पर भी जांच कर रही है।

दोनों लिव इन रिलेशनशिप में रह रहे थे। दोपहर के वक्त प्रमोद ने महिला को शूट कर खुद को गोली मार लिया है। उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई है। मृतका के भाई ने तहरीर दी है। उसमें भी यही बात कही गई है। जांच की जा रही है।

-अतुल शर्मा,

एसएसपी प्रयागराज