RANCHI : बच्चों में छिपी वैज्ञानिक प्रतिभा का अद्भुत प्रदर्शन शुक्रवार को टॉरियन व‌र्ल्ड स्कूल में हुआ. विज्ञान के प्रायोगिक प्रशिक्षण में भागीदारी को बढ़ावा देने के लिए स्कूल कैंपस में विज्ञान प्रदर्शनी का आयोजन किया गया, जिसमें एक से बढ़कर एक मॉडल प्रदर्शित किये गये. राज्य भर के स्कूलों के 25 मॉडल का 48 प्रतिभागियों ने उम्दा प्रदर्शन किया. इसमें पहला पुरस्कार डीपीएस रांची के सृजन शाश्वत को मिला. दूसरे स्थान पर सफायर इंटरनेशनल स्कूल के देबागिनी बेरा और अभिनव ठाकुर रहे, तो तीसरे स्थान पर सेंट मेरीज इंग्लिश हाई स्कूल के सौरव रॉय और सोमिरन घोष रहे.

स्वतंत्र चयनकर्ताओं ने किया चुनाव

प्रदर्शनी में आये मॉडल का चुनाव रांची के मानिंद चयनकर्ताओं द्वारा किया गया. इनमें रांची यूनिवर्सिटी के सीनियर प्रोफेसर डॉ अभिजीत दत्ता, आईसीएआर के सीनियर साइंटिस्ट डॉ सुदर्शन मौर्य एवं मारवाड़ी कॉलेज के फिजिक्स के एचओडी एसएन पॉल शामिल थे. स्कूल के प्रिंसिपल डॉ सुभाष कुमार ने अतिथियों के साथ मिलकर प्रदर्शनी का उद्घाटन किया.

इमरजिंग साइंटिस्ट भी चुने गये

प्रदर्शनी के समापन के मौके पर सम्मान समारोह का आयोजन किया गया. विजेताओं के अतिरिक्त पांच बच्चों को इमरजिंग साइंटिस्ट का भी अवार्ड दिया गया. इनमें टॉरियन व‌र्ल्ड स्कूल के लक्षेंद्र सिंह, सेंट माइकल स्कूल के ऋषि राज और सौम्यजीत, सेंट मेरीज इंग्लिश स्कूल, जमशेदपुर के आदित्य हर्ष तथा इसी स्कूल के गुरुदेव सिंह शामिल हैं.

आज नेशनल कॉन्फ्रेंस के साथ समापन

शनिवार को इस मेगा ईवेंट का समापन एक नेशनल कॉन्फ्रेंस के साथ होगा, जिसमें कई रिसर्च पेपर प्रस्तुत किये जाएंगे. प्रिंसिपल डॉ सुभाष कुमार ने बताया कि कॉन्फ्रेंस सुबह दस बजे से शाम पांच बजे तक चलेगा. मौके पर अमीटी यूनिवर्सिटी के वाइस चांसलर प्रो डॉ रमन कुमार झा और बीआईटी मेसरा के वाइस चांसलर डॉ मनोज कुमार मिश्रा विशिष्ट अतिथि के रूप में मौजूद होंगे. कॉन्फ्रेंस में 25 पेपर प्रस्तुत किये जाएंगे.