-एनबीआरआई में साइंस विलेज संपन्न, बच्चों ने जीते पुरस्कार

lucknow@inext.co.in

LUCKNOW:

राजधानी में चौथे भारतीय अंतरराष्ट्रीय विज्ञान महोत्सव (आईआईएसएफ 2018) के अंतर्गत सीएसआईआर एनबीआरआई में आयोजित साइंस विलेज सोमवार को संपन्न हो गया. सोमवार को साइंटून एवं वैज्ञानिक कविता कंप्टीशन में बच्चों ने बढ़ चढ़कर हिस्सा लिया. डॉ. पीके श्रीवास्तव द्वारा आयोजित साइंटून कंप्टीशन में लगभग 100 बच्चों ने हिस्सा लिया और जागृति वर्मा, वर्षा एवं सेरिंग युदों ने गोल्ड मेडल जीते. ये तीनों रमन हाउस के थे जबकि सिल्वर मैडल आयुषी सिंह, प्रशांत, सुकुमार, विनोद कुमार, प्रभाकर गुप्ता को मिला.

कविताएं सुना जीते पुरस्कार

सीडीआरआई के साइंटिस्ट पंकज प्रसून द्वारा आयोजित कविता प्रतियोगिता में साराभाई हाउस से एम श्रीविका (तमिल कविता) व अशोक साटो (मलयालम कविता)ने क्रमश: गोल्ड व सिल्वर मेडल प्राप्त किए. रमण हाउस से नियति गौरी ने गोल्ड एवं भावना शर्मा ने सिल्वर जीता. बोस हाउस से रिदम एवं अंकित ने गोल्ड व अफजल अंसारी ने सिल्वर हासिल किया. खुराना हाउस से निखिल राज सोनी को सिल्वर हासिल हुए. कलाम हाउस से रक्षिता व भाभा हाउस से पिंकी साहू को गोल्ड मैडल मिला. इस दौरान डॉ. एसके तिवारी ने डॉ. पीके श्रीवास्तव को और डॉ. प्रमोद शिर्के ने पंकज प्रसून को प्रतीक चिन्ह देकर सम्मानित किया.

कार्टून से जानी नैनो टेक्नोलॉजी

वैज्ञानिक छात्र संवाद में साइंटिस्ट डॉ. प्रदीप श्रीवास्तव के साथ बच्चों ने कार्टून से जैव विविधता संरक्षण, जलवायु परिवर्तन, नैनो टेक्नोलॉजी आदि को जाना. पंकज प्रसून ने बच्चों को कविताओं से विज्ञान सिखाया. डॉ. मनु प्रकाश से बच्चों ने कागज का माइक्रोस्कोप असेंबल करना सीखा.