डेढ़ किलोमीटर की गहराई पर मिली 20 किलोमीटर लंबी बर्फीली झील
कानपुर। मंगल ग्रह पर सालों से पानी की खोज कर रहे नासा समेत दुनिया की तमाम स्पेस एजेंसियों के लिए यह नई खबर किसी चमत्‍कार से कम नहीं है। यह एक लैंड मार्क डिस्कवरी मानी जा रही है कि वैज्ञानिकों ने सौर मंडल के लाल ग्रह पर बर्फ की एक बहुत बड़ी झील खोज निकाली है। न्‍यूयॉर्क टाइम्‍स की रिपोर्ट के मुताबिक वैज्ञानिकों ने मंगल ग्रह की जमीन में करीब डेढ़ किलोमीटर की गहराई पर 20 किलोमीटर लंबी बर्फ की झील खोजी है। यह जानकारी मंगल ग्रह का चक्कर लगा रहे रडार प्रोब से मिले डेटा से सामने आई है। इटैलियन स्‍पेस एजेंसी के मुताबिक मंगल पर मिली यह खारे पानी की झील धरती पर ग्रीनलैंड और अंटार्कटिका में मिली किसी भूमिगत झील जैसी ह‍ी है।

Mars एक्‍सप्रेस प्रोब से मिले डेटा ने खोला इस दफन झील का राज
एक्सपर्ट्स के मुताबिक मंगल ग्रह के बर्फीले साउथ पोल के नीचे जमीन की गहराई में दबी यह बर्फ की झील किसी भी एलियन लाइफ के लिए एक आदर्श माहौल हो सकती है। एक्सपर्ट्स कहते हैं कि इस बर्फ की झील में थोड़ा बहुत पानी तरल रूप में भी हो सकता है। हालांकि इस झील का तापमान माइनस 68 डिग्री सेल्सियस बताया जा रहा है, जिस तापमान पर पानी का तरल रह पाना मुश्किल ही है। मंगल ग्रह पर पानी की यह खोज पहला प्रूफ है जो इस बात के संकेत देता है कि लाल ग्रह पर भी शायद कभी जिंदगी रही होगी। बता दें कि मंगल ग्रह की इस झील का पता लगाने में Mars Express probe द्वारा भेजे गए डेटा और तस्‍वीरों ने अहम रोल अदा किया है। यह स्‍पेस प्रोब यूरोपियन स्पेस एजेंसी द्वारा भेजा गया था और साल 2003 से मंगल ग्रह का चक्कर लगा रहा है।

वैज्ञानिकों को मंगल ग्रह पर मिली मीलों लंबी पानी की झील,जो बताएगी एलियन लाइफ का नया सच!

इस झील के पानी का सैंपल लाना, हो सकता है फ्यूचर स्‍पेस मिशन का लक्ष्‍य
डेलीमेल की रिपोर्ट बताती है कि इटली के नेशनल इंस्टिट्यूट फॉर एस्ट्रोफिजिक्स, रोम के वैज्ञानिकों ने मंगल ग्रह पर मौजूद इस भूमिगत बर्फीली झील की खोज की है। सिडनी यूनिवर्सिटी के एरोस्पेस इंजीनियर वारविक होम्स जिन्होंने इस खोज में महत्वपूर्ण योगदान दिया है, उनका कहना है कि भविष्य में मंगल ग्रह पर जाने वाले स्पेसक्राफ्ट मिशन खोजी गई इस नई झील में से पानी के सैंपल लाने के लिए बहुत ही कड़ी मेहनत करने वाले हैं। उन्‍होंने बताया कि वर्तमान समय में दुनिया में इस्तेमाल की जाने वाली कोई भी ऐसी तकनीक नहीं है जो इतनी गहराई पर मौजूद बर्फीली झील में से पानी खिंच कर बाहर निकाल सके। हालांकि फिर होम्स काफी आशान्वित है कि भविष्य में ऐसा जरूर होगा।

इस कंपनी ने किया बड़ा कमाल, SUV की कीमत में ला रही है उड़ने वाली कार!

सिर्फ 54 घंटे में बना डाला 5 बेडरूम का फ्लैट, इस हाईटेक तकनीक से तो हो जाएगी बल्‍ले-बल्‍ले!

कार के बाद स्मार्टफोन के लिए भी आ गए एयरबैग, जो उसे टूटने नहीं देंगे

International News inextlive from World News Desk