इस बार नकल रोकने के लिए उठाए जा रहे हैं कई सख्त कदम

लगभग सभी जिलों में प्रश्न पत्र और उत्तर पुस्तिकाएं भेजी गई

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: माध्यमिक शिक्षा परिषद की बोर्ड परीक्षाओं का आगाज 6 फरवरी से हो रहा है. बोर्ड की तरफ से सभी तैयारियां पूरी की जा चुकी है. ज्यादातर जिलों में प्रश्नपत्र और उत्तर पुस्तिकाओं को भेजने की प्रक्रिया भी पूरी हो चुकी है. इस बार की बोर्ड परीक्षा में सूबे में कुल 25,896 स्कूलों के स्टूडेंट्स शामिल होगे. इसमें राजकीय स्कूलों की संख्या 2152 है. जबकि एडेड स्कूलों की संख्या 4535 है. बोर्ड परीक्षा में शामिल होने वाले स्कूलों में सबसे अधिक संख्या वित्त विहीन स्कूलों की है. सूबे में कुल 19209 वित्त विहीन स्कूलों के स्टूडेंट्स परीक्षा में शामिल होंगे.

वित्त विहीन स्कूलों ने मारी बाजी

इस बार नकल रोकने के लिए अधिक से अधिक राजकीय व एडेड स्कूलों को केंद्र बनाने में वरीयता की बात कही गई थी. इसके बाद भी केन्द्र बनने में वित्त विहीन स्कूलों ने इस बार भी बाजी मारी है. केन्द्र बनाए गए स्कूलों में राजकीय स्कूलों की संख्या 425 है. एडेड स्कूलों की संख्या 3467 है. इसके इतर वित्त विहीन स्कूलों की संख्या 4657 है. इनमें हाईस्कूल के 105 व हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट के मिश्रित 8444 परीक्षा केन्द्र शामिल हैं. लास्ट इयर के मुकाबले इस बार की बोर्ड परीक्षा के लिए बनाए गए केन्द्रों की संख्या में कमी आयी है. लास्ट इयर बोर्ड परीक्षा के लिए कुल 11415 परीक्षा केन्द्र बनाए गए थे. इस बार 8549 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं. हालांकि इस बार लास्ट इयर के मुकाबले स्टूडेंट्स की संख्या में छह लाख का इजाफा हुआ है.

25,896 स्कूलों के स्टूडेंट्स बोर्ड परीक्षा में शामिल होंगे

2152 है प्रदेश में राजकीय स्कूलों की संख्या

4535 है प्रदेश में एडेड स्कूलों की संख्या

19209 है प्रदेश में वित्त विहीन स्कूलों की संख्या

8549 परीक्षा केन्द्र बनाए गए हैं इस बार बोर्ड परीक्षा के लिए

425 राजकीय स्कूल बनाए गए हैं इस बार परीक्षा केंद्र

3467 एडेड स्कूल बनाए गए हैं इस बार परीक्षा केंद्र

4657 वित्त विहीन स्कूल इस बार बनाए गए हैं परीक्षा केंद्र

105 स्कूल बने हैं केवल हाई स्कूल के परीक्षा केंद्र

8444 परीक्षा केन्द्रों में हाई स्कूल और इंटरमीडिएट दोनों के एग्जाम होंगे

11415 परीक्षा केन्द्र बनाए गए थे बीते साल पूरे प्रदेश में बोर्ड परीक्षाओं के लिए

06 लाख अधिक है इस बार बोर्ड के परीक्षार्थियों की संख्या