-टीजीटी-पीजीटी 2016 की लिखित परीक्षा पर संशय

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: अशासकीय सहायता प्राप्त इंटर कालेजों में शिक्षक भर्ती के लिए आयोजित होने वाली टीजीटी-पीजीटी लिखित परीक्षा पर फिर से संकट के बादल छाने लगे है. करीब दो साल से लिखित परीक्षा के इंतजार में बैठे लाखों अभ्यर्थियों का भविष्य अधर में लटका है. माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की तरफ से सितंबर माह में लिखित परीक्षा के लिए तिथियों की घोषणा की गई थी. ऐसे में अभ्यर्थियों को भी उम्मीद थी कि निधार्रित तिथि तक परीक्षा हो जाएगी, लेकिन आठ विषयों के पदों के आवेदन निरस्त करने की घोषणा के बाद एक बार फिर से लिखित परीक्षा पर ग्रहण लगता नजर आ रहा है.

दस लाख अभ्यर्थियों का मामला माध्यमिक शिक्षा सेवा चयन बोर्ड की तरफ से टीजीटी-पीजीटी 2016 के लिए 10 लाख 71 हजार से अधिक अभ्यर्थियों ने आवेदन किया था. उसके बाद से अभ्यर्थियों को लिखित परीक्षा का इंतजार था. चयन बोर्ड के पुर्न गठन के बाद बोर्ड की तरफ से सितंबर में परीक्षा कराने की तिथियों की घोषणा की गई थी. इसी बीच बोर्ड की तरफ से टीजीटी जीव विज्ञान, संगीत, काष्ठ शिल्प, पुस्तक कला, टंकण, और आशुलिपिक टंकण और पीजीटी शिक्षकों में वनस्पति विज्ञान, संगीत के पद समाप्त करने की घोषणा कर दी गई. जिसके कारण सितंबर माह में होने वाली लिखित परीक्षा की तिथियों को कैंसिल कर दिया गया. ऐसे में फिर से लिखित परीक्षा कराने को लेकर अभी तक चयन बोर्ड की तरफ से कोई स्थिति स्पष्ट नहीं हो सकी.

फैक्ट फाइल

-टीजीटी -पीजीटी 2016 के लिए वर्ष 2016 में मांग गए थे आवेदन

-अक्टूबर 2016 में लिखित परीक्षा कराने के लिए बोर्ड ने घोषित की थी तिथियां

-बोर्ड के फिर से चयन के बाद सितंबर माह में लिखित परीक्षा के लिए घोषित हुई थी तिथियां

-टीजीटी के लिए कुल 7550 पदों के लिए 6,55,304 अभ्यर्थियों ने किया था आवेदन

-पीजीटी के 1344 पदों के लिए 4,16,078 अभ्यर्थियों ने किया था आवेदन

-टीजीटी में जीव विज्ञान में 304, संगीत में 22, काष्ठ शिल्प में 2, पुस्तक कला 8, टंकण 1, आशुलिपिक में 1 पदों के आवेदन को निरस्त किया गया

-पीजीटी में वनस्पति विज्ञान में 2 और संगीत में 1 पद के लिए आए आवेदनों को पद समाप्त होन के बाद निरस्त किया गया