लिखित परीक्षा प्रमाण पत्र सिर्फ एक बार इस्‍तेमाल
ALLAHABAD: सूबे में बेसिक शिक्षा परिषद के स्कूलों में सहायक अध्यापक के पदों पर भर्ती के लिए होने वाली लिखित परीक्षा का प्रमाण पत्र सिर्फ एक ही बार प्रयोग किया जा सकेगा। दोबारा निकलने वाली भर्ती के लिए फिर से लिखित परीक्षा पास करनी होगी। ऐसे में अगर कोई अभ्यर्थी टीईटी के तर्ज पर एक बार परीक्षा पास करके दूसरी बार भी इसी प्रमाण पत्र को यूज करने की सोच रहा है तो यह संभव नहीं होगा। टीईटी को पास करके उसके प्रमाण पत्र को पांच साल तक प्रयोग में लाने की व्यवस्था की गई है।

पांच साल का मौका देने का था प्रस्ताव
सूबे में पहली बार होने वाली शिक्षक भर्ती की लिखित परीक्षा के प्रस्ताव में सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी ने पांच साल तक उसकी वैधता रखने की बात कही थी। शासनादेश जारी होने के बाद उसमें पांच साल की वैद्यता को लेकर कोई भी बात नहीं कही गई। इसके बाद पांच साल तक परीक्षा के प्रमाणपत्र की वैधता को लेकर अभ्यर्थियों की तैयारी फेल हो गई। ऐसे में 58500 सहायक अध्यापक के पदों पर होने वाली भर्ती के बाद अन्य भर्तियों के लिए अभ्यर्थियों को फिर से लिखित परीक्षा क्वालीफाई करनी होगी। इसके बाद भी उन्हें नौकरी पाने का मौका मिलेगा.

हमें जैसा शासनादेश मिला है उसी के अनुरूप परीक्षा का आयोजन करा रहे हैं। इस बारे में निर्णय शासन ही ले सकता है।
डॉ। सुत्ता सिंह, सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी