- ऑनलाइन सर्विस में जुड़ी बिल अपडेट करने की सुविधा

- पावर कॉरपोरेशन की सहूलियत, उपभोक्ताओं को राहत

GORAKHPUR: हर माह बिजली मीटर की रीडिंग को लेकर टेंशन झेलने वाले उपभोक्ताओं को पावर कॉरपोरेशन ने राहत दी है. यूपीपीसीएल की वेबसाइट पर आईडी बनाकर उपभोक्ता अपने मीटर रीडिंग का बिल खुद तैयार कर सकेंगे. बिजली निगम की इस सुविधा से उन उपभोक्ताओं को राहत मिलेगी जिनके घर अक्सर मीटर रीडर नहीं पहुंचते हैं. अधिकारियों का कहना है कि तमाम तरह की शिकायतें सामने आती थीं. इसको देखते हुए तरह-तरह की व्यवस्था की गई है. हेल्प लाइन नंबर पर मीटर रीडिंग का वीडियो भेजने वाले उपभोक्ताओं का बिल तैयार करके व्हाट्सअप पर जारी किया जा रहा है.

बिल की गड़बड़ी से हलकान होते उपभोक्ता

शहर में बिजली निगम के करीब एक लाख 75 हजार उपभोक्ता हैं. इनमें 40 फीसदी से अधिक उपभोक्ताओं का हर माह बिल जनरेट नहीं हो पाता है. घर में खर्च की गई बिजली का पैसा जमा कराने के लिए उपभोक्ता दफ्तरों का चक्कर लगाते फिरते हैं. बिल न जमा होने की दशा में चेकिंग कर्मचारी लाइन काटकर चले जाते हैं. ऐसे में तमाम उपभोक्ताओं को बेवजह परेशान होना पड़ता है. बताया जाता है कि बिलिंग कंपनी के कर्मचारी कई बार मनमानी ढंग से बिल बना देते हैं. कनेक्शनधारी के घर पहुंचने के बजाय वह अपने सेंटर पर बिल तैयार करके भेज देते हैं. उनकी हरकत से कई बार उपभोक्ताओं का बिल गड़बड़ हो जाता है. गोरखपुर जोन के चीफ इंजीनियर ने भी माना है कि बिजली के बिलों में काफी गड़बड़ी हो रही है. इन समस्याओं को देखते हुए गड़बडि़यों को ऑनलाइन दूर करने के लिए प्रोत्साहित किया जा रहा है.

खुद करें मीटर रीड, जमा करें बिल

बिजली का बिल जमा करने के लिए उपभोक्ताओं को रीडर का इंतजार करना पड़ता था. मीटर रीडर के आने के बाद ही बिल जमा होता था. इस समस्या को दूर करने के लिए पावर कॉरपोरेशन ने एक नई व्यवस्था शुरू की थी. लेकिन प्रचार-प्रसार के अभाव में ज्यादातर उपभोक्ता इस सुविधा का लाभ नहीं उठा पा रहे हैं. ऑनलाइन बिल का भुगतान करने वालों की तादाद बढ़ने पर यह व्यवस्था दी जा रही है. इसमें खुद मीटर रीड करके काउंटर पर अपनी मीटर रीडिंग बताकर बिजली बिल का भुगतान करने की व्यवस्था है. इसके अलावा डिजिटल सुविधा का लाभ लेने के लिए एक यूजर आईडी और पासवर्ड की जरूरत होगी. इसके लिए सबसे पहले www.uppcl.org की वेबसाइट खोलना होगा. फिर दिए गए निर्देश के मुताबिक अपनी यूजर आईडी और पासवर्ड बनाकर बिल जमा किया जा सकेगा. यूजर आईडी से कई तरह की सुविधाओं का लाभ उठाया जा सकेगा. बिलिंग कलेक्शन सेंटर पर भी इसका जोर-शोर से प्रचार किया जा रहा है.

वर्जन

ऑनलाइन बिजली बिल बनाने की सुविधा शुरू हो गई है. उपभोक्ता यूजर आईडी बनाकर मीटर रीडिंग के अनुसार बिल जमा करा सकते हैं. गलत रीडिंग बनाकर कम बिल अमाउंट जमा कराने पर खर्च किए गए यूनिट का दोगुना चार्ज लिया जाएगा. इसलिए उपभोक्ता खुद से बनने वाली रीडिंग में कोई गड़बड़ी न करें. वेबसाइट पर कई अन्य सुविधाओं को अपडेट किया जाएगा.

- एके सिंह, एसई, महानगर विद्युत वितरण मंडल