JAMSHEDPUR: सिंहभूम चैंबर आफ कॉमर्स एंड इंडस्ट्री की ओर से बिष्टुपुर स्थित चैंबर भवन में 'साइबर क्राइम' पर सेमिनार का आयोजन किया गया. सेमिनार में मुख्य रूप से सिटी एसपी प्रभात कुमार उपस्थित हुए. सेमिनार में साइबर क्राइम से संबंधित विशिष्ट जानकारी देने के लिए पुलिस टेक्नीकल टीम के सदस्य रवि मिश्रा व विक्रांत मौजूद थे. उन्होंने उद्यमियों को साइबर क्राइम से बचाव की जानकारियां दी. इस अवसर पर सिटी एसपी प्रभात कुमार ने कहा कि वर्तमान समय में साइबर क्राइम काफी बढ़ गया है. साइबर क्राइम में मोबाइल, बैंक, इंटरनेट आदि का उपयोग व्यापक रूप से किया जा रहा है. उन्होंने सेमिनार आयोजित करने के लिए सिंहभूम चैंबर को बधाई देते हुए कहा कि आधुनिक युग में क्राइम का स्वरूप बदल रहा है. यदि आप स्मार्ट हो रहे हैं तो चोर-उचक्के सुपर स्मार्ट हो रहे हैं. अगर आप व्यवहार में जरा सा भी चूक गए तो इनके जाल में फंस सकते हैं. एसपी ने कहा कि अगर आप स्मार्ट फोन का उपयोग करते हैं तो आपका कुछ भी व्यक्तिगत नहीं है. आपके बारे में सब कुछ पता लगाया जा सकता है. इसलिए,आपको सदैव सावधान रहना है.

इसलिए करते हैं गलती

जमशेदपुर पुलिस के टेक्नीकल टीम के सदस्य रवि मिश्रा ने व्यापारियों को प्रोजेक्टर के माध्यम से जानकारी देते हुए बताया कि जानकारी के अभाव में हम गलती कर बैठते हैं. जिससे अपराधियों के जाल में फंस जाते हैं. उन्होंने बताया कि साइबर क्राइम में मोबाइल फोन, कंप्यूटर का उपयोग किया जाता है. इन तकनीकि उपकरणों का उपयोग कर साइबर अपराधी हैक करते हैं. हमारी पहचान चुराई जाती है व इसका दुरुपयोग कर हमारा नुकसान किया जाता है. ई-मेल, मोबाइल मैसेज, फोन करके, लॉटरी के जरिये, सिम कार्ड स्वैपिंग, एटीएम. क्लोनिंग, एटीएम एक्सचेंज, जाली बैंक अधिकारी, जाली इंश्योरेंस एजेंट, फेसबुक में फोटो डालकर हमें साइबर क्राइम कर फंसाया जाता है. इस दौरान इन तमाम क्राइम से बचाव के उपाय की विस्तृत जानकारी दी गई.

इनकी रही मौजूदगी

अशोक भालोटिया, विजय आनंद मूनका, मानव केडिया, भरत वसानी, दिनेश चौधरी, नितेश धूत, सत्यनारायण अग्रवाल, राजीव अग्रवाल, अनिल मोदी, महेश सोंथालिया, बीएन शर्मा, किशोर गोलछा, दिनेश पारीख, विपिन भाई अडेसरा समेत शहर के विभिन्न व्यवसायिक प्रतिष्ठानों के प्रतिनिधि मौजूद थे.