-लेबर डिपार्टमेंट के मुताबिक मिलेगा कार्मिकों को लाभ

DEHRADUN: वेतन वृद्धि और अन्य मांगों को लेकर बीते आठ दिन से चल रही डोर-टू-डोर कूड़ा कलेक्शन के कार्मिकों की हड़ताल मंगलवार शाम खत्म हो गई. हालांकि, कर्मियों ने बुधवार सुबह से काम शुरू करने का फैसला लिया है. हड़ताल खत्म होने के बाद अब निगम अधिकारियों का दावा है कि शहर की सफाई व्यवस्था शनिवार तक ऑन ट्रैक हो पाएगी. इधर, हड़ताल को देखते हुए नगर निगम प्रशासन ने वैकल्पिक व्यवस्था के तहत मंगलवार को नियमित चालकों से ट्रक व ट्रैक्टर चलाकर सड़क किनारे पड़े कूड़ेदानों का उठान कराया.

कई दिनों से जारी थी हड़ताल

पिछले कई दिनों से डोर-टू-डोर कूड़ा उठान में लगी कंपनी के तीन सौ से अधिक कर्मचारी हड़ताल पर चल रहे थे. नतीजतन, सिटी में सड़क, गली मोहल्लों व तमाम इलाकों में कूड़े के ढेर जमा हो गए थे. निगम प्रशासन के कई बार कर्मचारियों के साथ मान-मनोबल करने के बाद भी कर्मचारी मानने को तैयार नहीं थे. इस बीच मेयर विनोद चमोली ने सोमवार को हड़तालियों को बर्खास्त करने की चेतावनी दी तो कुछ कार्मिक शिथिल पड़ गए. इसके बाद मंगलवार को ये कर्मचारी नगर आयुक्त विजय कुमार जोगदंडे से मिलने पहुंचे और वार्ता हुई. नगर आयुक्त के मुताबिक नई कंपनी में सिर्फ उन्हीं कर्मियों को एडजस्ट किया जाएगा, जो हड़ताल नहीं करेंगे. आयुक्त ने कहा कि कर्मियों को लेबर डिपार्टमेंट के मुताबिक वेतन, भत्ते व बीमा का लाभ दिया जाएगा. इसके बाद सफाई कर्मी मान गए और हड़ताल खत्म कर दी. इस दौरान पूर्व विधायक राजकुमार ने भी हड़तालियों से वार्ता की. मेयर विनोद चमोली के अनुसार अभी पूरी तरह व्यवस्था पटरी में आने में कुछ दिनों का वक्त लगेगा.

सस्पेंड होंगे कुछ कार्मिक

हड़ताल पर डटे कुछ कार्मिकों के खिलाफ निगम प्रशासन ने कार्रवाई का मन बनाया है. बताया जा रहा है कि इसके लिए आठ कार्मिकों की सूची भी तैयार कर ली गई है. मेयर ने ऐसे कार्मिकों को सस्पेंड करने के भी आदेश दिए हैं. मेयर के आरोप हैं कि कांग्रेसी नेताओं के कारण हड़ताली कार्मिक हड़ताल पर डटे रहे.

ट्रंचिंग ग्राउंड पर भी निगम सख्त

बताया जा रहा है कि सेलाकुई स्थित ट्रंचिंग ग्राउंड में हो रही लेटलतीफी पर निगम प्रशासन सख्त हो गया है. इसके लिए निगम प्रशासन ने कुछ अधिकारियों की तैनाती की भी तैयारी कर दी है. सूत्रों के मुताबिक ट्रंचिंग ग्राउंड को तैयार कर रही कंपनी के खाते से इन अधिकारियों की सैलरी मुहैया कराई जाएगी.