दोस्‍त की पत्‍नी के प्रति एकतरफा प्‍यार में पागल मेजर ने घटना को दिया अंजाम

नई दिल्ली (ऐजेंसी)कल पुलिस ने रविवार को यूपी के मेरठ से 40 साल के एक आर्मी मेजर निखिल हांडा को गिरफ्तार किया है। दिल्‍ली पश्चिमी जिला पुलिस के एक पुलिस अधिकारी के मुताबिक निखिल पर आरोप है कि उसने अपने एक समकक्ष आर्मी मेजर की पत्‍नी शैलजा की गला रेत कर हत्‍या की है। पश्चिमी जिले के पुलिस उपायुक्त विजय कुमार के मुताबिक आरोपित के खिलाफ हमें अहम सुबूत मिले हैं। एक एकतरफा प्‍यार में पागल आरोपित मेजर निखिल हांडा शैलजा द्विवेदी से पति से संबंध तोड़ने और उससे शादी करने का दबाव बना रहा था, लेकिन जब शैलजा ने ऐसा करने से इन्कार कर दिया, तो गुस्से में उसने शैलजा की गला रेतकर हत्या कर दी।

एक मेजर की पत्नी का मर्डर,हत्‍यारोप में दूसरा मेजर गिरफ्तार

दीमापुर में निखिल और शैलजा की हुई थी मुलाकात, तब से शैलजा के पीछे पड़ा था मेजर निखिल

पुलिस के मुताबिक, आरोपित मेजर निखिल हांडा व शैलजा के पति की पोस्टिंग नागालैंड के दीमापुर में थी। 2015 में निखिल व शैलजा की मुलाकात हुई और दोनों के बीच दोस्ती शुरू हो गई। इस बीच शैलजा के पति का चयन यूनाइटेड नेशन मिशन के लिए हो गया और वह परिवार समेत दिल्ली आ गए। पति-पत्नी और बच्चे सभी दिल्ली कैंट स्थित ऑफिसर्स क्वार्टर में रह रहे थे। इस बीच आरोपित मेजर निखिल हांडा भी माइग्रेन की बात कहकर इलाज के लिए दिल्ली आ गया। यहां आर्मी के बेस अस्पताल में वह भर्ती हो गया। शैलजा भी पैर दर्द की शिकायत होने पर फिजियोथेरेपी के लिए यहां रोजाना आती थीं और दोनों की यहीं मुलाकात होती थी। सूत्रों की माने तो आरोपित मेजर को अस्पताल से छुट्टी मिल गई थी, लेकिन इसके बाद उसने अपने बेटे को पेट संबंधित बीमारी का हवाला देकर इसी अस्पताल में भर्ती करा दिया। इस दौरान आरोपित शैलजा पर शादी का दबाव बनाता रहा।

जब शैलजा ने पति को छोड़ने से किया कड़ा इंकार, तो कार में ही कर दिया कत्‍ल

पुलिस के मुताबिक शनिवार को आर्मी हॉस्पिटल में मिले निखिल और शैलजा दोनों एक साथ होंडा सिटी कार से निकले थे। यहां से निकलने के बाद दोनों दिल्ली कैंट मेट्रो स्टेशन के पास सुनसान जगह पर पहुंचे। वहां कार में ही दोनों के बीच काफी देर तक वाद-विवाद होता रहा। पुलिस के अनुसार, शैलजा द्वारा पति को छोड़ने के लिए तैयार नहीं होने पर आरोपी मेजर निखिल के साथ उसका विवाद इतना बढ़ गया कि गुस्‍से में निखिल ने शैलजा के गले पर चाकू से वार कर दिया। इसके बाद उसे कार से बाहर फेंक दिया निखिल ने इस हत्‍या को एक्‍सीडेंट का रूप देने की कोशिश भी की। जब पुलिस ने शैलजा के मोबाइल नंबर की कॉल डिटेल खंगालनी शुरू की और जब अस्‍पताल के सीसीटीवी फुटेज को देखकर उनके पति ने भी निखिल पर शक जताया, तो पूरी जांच निखिल को केंद्र में रखकर ही शुरु हुई। कॉल डिटेल से पुलिस को पता चला कि शैलजा और निखिल के बीच काफी बात हुई है। इसके बाद मोबाइल सर्विलांस की मदद से पुलिस ने आरोपी मेजर निखिल को मेरठ में पाया और वहीं से उसे गिरफ्तार कर लिया।

मुंबई: एक पुलिस वाले ने हिस्ट्रीशीटर को कह दिया 'भइया' बदले में हुई उसकी जमकर पिटाई

Crime News inextlive from Crime News Desk