अमिताभ बच्‍चन को याद आईं पुरानी बातें
शशि कपूर की मौत के बाद अमिताभ की जिंदगी अधूरी सी रह गई। अमिताभ ने ब्‍लॉग लिखकर अपना दर्द बयां किया है। शशि कपूर अमिताभ बच्‍चन के फिल्‍मी भाई थे। दोनों ने 'दीवार', 'सुहाग', 'काला पत्‍थर' और 'नमक हलाल' जैसी सुपरहिट फिल्‍मों में साथ में काम किया। मौत की खबर सुनते ही अमिताभ बेटे व बहू के साथ उन्‍हें श्रद्धांजलि देने उनके घर पहुंचे। बच्चन ने अपने ब्लॉग पर भी उन्हें याद किया। "हम जिंदगी को अपनी कहां तक सम्भालते। इस कीमती किताब का कागज खराब था" रूमी जाफरी की इस पंक्ति के साथ अमिताभ ने उन्हें श्रंद्धाजलि दी।
शशि कपूर की मौत के बाद अमिताभ ने खोले 3 राज,जो अब तक थे छुपे
पहला राज
अमिताभ ने अपने ब्‍लॉग में शशि कपूर के साथ पहली मुलाकात से लेकर आखिर मुलाकात तक सारी बातें शेयर कीं। 60 के दशक में जब अमिताभ बच्चन फिल्म इंडस्ट्री में संघर्ष कर रहे थे, तब उन्होंने शशि कपूर की तस्वीर को पहली बार देखा। मैगजीन में उनकी शानदार तस्वीर छपी थी और साथ ही लिखा था कि राज और शम्मी कपूर के छोटे भाई जल्द ही डेब्यू करने जा रहे हैं। इसे पढ़कर अभिनेता बनने की चाहत रखने वाले अमिताभ बच्चन के मन में ख्याल आया था- "यदि आसपास ऐसे आदमी हो, तो मेरा कोई चांस नहीं।" यानी शशि कपूर उस वक्‍त बेहद हैंडसम थे, उन्‍हें देखकर बिग बी को लगा कि अगर शशि हीरो बन गए, तो उन्‍हें कोई नहीं पूछेगा। खैर किस्‍मत को कुछ और मंजूर था, दोनों ने साथ में फिल्‍मों में काम किया और अमिताभ बहुत आगे निकल आए।
शशि कपूर की मौत के बाद अमिताभ ने खोले 3 राज,जो अब तक थे छुपे
दूसरा राज

75 साल के बिग बी ने अपने ब्लॉग में बताया है कि कैसे हर मुलाकात में शशि कपूर और उनकी दोस्ती गहरी होती चली गई। अमिताभ लिखते हैं, 'वह मुझे 'बबुआ' कहते थे... आज उनके साथ-साथ मेरे और उनकी जिंदगी के कई पन्ने अधूरे ही चले गए।' अपने फिल्मी करियर के दौरान अमिताभ और शशि कपूर की जोड़ी ने बॉलीवुड को कई बेहतरीन फिल्में दीं। सुपरहिट फिल्म दीवार में अमिताभ और शशि कपूर का डायलॉग 'मेरे पास मां है' बेहद मशहूर हुआ था। शशि के निधन से दुखी अमिताभ इसी डायलॉग को याद करते हुए बस इतना ही कह पाए, 'अब मेरे पास भाई नहीं है।'

शशि कपूर के साथ ये 5 फिल्‍में करके अमिताभ बने थे सुपरस्‍टार

शशि कपूर की मौत के बाद अमिताभ ने खोले 3 राज,जो अब तक थे छुपे
तीसरा राज
शशि कपूर पिछले कई दिनों से किडनी से संबंधित बीमारी से ग्रसित थे। अमिताभ ने लिखा कि, उन्‍हें जब अपने प्यारे दोस्त की मौत के बारे में पता चला तो वह अस्पताल नहीं गए। बच्‍चन ने लिखा कि, 'वह उनसे सिर्फ एक बार हॉस्‍पिटल मिलने गए थे, उसके बाद फिर कभी नहीं गए। अमिताभ अपने दोस्‍त को इस तरह बीमारी हालत में नहीं देखना चाहते थे, उन्‍हें वह खुशमिजाज शशि पसंद था जो उनका भाई भी था और दोस्‍त भी।
शशि कपूर की मौत के बाद अमिताभ ने खोले 3 राज,जो अब तक थे छुपे

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk