- डेंगू की पुष्टि से स्वास्थ विभाग में हड़कंप, लोगों में बैचेनी

-नगर निगम को लिखा पत्र, प्रभावित क्षेत्रों में कराए फॉगिंग

MEERUT । शहर में डेंगू की दस्तक से स्वास्थ विभाग में हड़कंप मचा है। विभाग ने न केवल एलर्ट घोषित कर दिया है, बल्कि संबंधित विभागों से भी मदद की गुहार लगाई है। विभाग ने जहां डेंगू को लेकर गठित की गई टीमों को राहत कार्य करने के निर्देश दिए हैं, वहीं नगर निगम को प्रभावित इलाकों में फॉगिंग करने के लिए पत्र लिखा है।

डैमेज कंट्रोल में जुटा विभाग

अपने तमाम प्रयासों के बावजूद स्वास्थ विभाग शहर में डेंगू की दस्तक नहीं रोक पाया। शहर में दो दिनों के भीतर सामने आए डेंगू के दस मामलों ने विभागीय अफसरों की नींद उड़ा दी। डैमेज कंट्रोल करने के लिए विभाग ने बुधवार को आठ स्पेशल टीमों का गठन कर उनकों प्रभावित इलाकों में एंटी लारवा स्प्रे करने और जन-जागरुक अभियान चलाने के लिए उतारा। यहीं नहीं मेरठ स्वास्थ विभाग के मुखिया सीएमओ डॉ। रमेश चंद्रा ने भी डेंगू प्रभावित इलाकों में जाकर लोगों का हाल जाना।

नगर निगम को लिखा पत्र

डेंगू अलर्ट के चलते सीएमओ डॉ। रमेश चंद्रा ने नगर आयुक्त को पत्र लिखकर शहर और प्रभावित इलाकों में फॉगिंग करने के मांग की है।

--

शहर में फॉगिंग के लिए नगर निगम को पत्र लिखा गया है। इस समय शहर और खासकर डेंगू प्रभावित क्षेत्रों में फॉगिंग की आवश्यक्ता है। स्वास्थ विभाग की टीम एंटी लार्वा का छिड़काव कर रही है।

-योगेश सारस्वत, जिला मलेरिया अधिकारी

---

डीएम ने दिए निर्देश

मेरठ में डेंगू की दस्तक के बाद जिला प्रशासन सतर्क हो गया है। डीएम जगत राज ने नगर निगम को कड़े आदेश दिए हैं कि वे एंटी लार्वा का छिड़काव सुनिश्चित कराएं। डीएम ने कहा कि मेडिकल कॉलेज और जिला अस्पताल में डेंगू वार्ड स्थापित किए जाएं।