क्‍यों बनाते हो पाकिस्‍तान के खिलाफ फिल्‍म
बॉलीवुड फिल्म निर्देशक के साथ पाकिस्तान के कराची एयरपोर्ट पर बदसलूकी हुई है। कबीर पर यहां लोगों ने ये आरोप लगाया कि वो अपनी फिल्मों में पाकिस्तान की गलत छवि पेश करते हैं। एक शख्स ने जूता उतारा और कबीर खान को दिखाने लगा। बड़ी मुश्किल से कबीर खान कराची एयरपोर्ट के अंदर पहुंचे। कबीर खान जैसे ही कराची एयरपोर्ट में अंदर घुसने लगे कुछ लोगों ने उन्हें घेर लिया। इन्होंने कबीर खान से पूछा, 'आप पाकिस्तान के खिलाफ फिल्में क्यों बनाते हैं। क्यों पाकिस्तान की छवि अपनी फिल्मों में खराब करते हैं। आखिर भारत में जो मुस्लिमों के साथ होता है, उस पर फिल्में क्यों नहीं बनाते।'

लगाये पाकिस्‍तान जिंदाबाद के नारे
इसके बाद एयरपोर्ट पर खड़े लोगों ने पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाने शुरू कर दिए। हद तो तब हो गई, जब एक शख्स ने अपना जूता उतारा और उसे कबीर खान को दिखाने लगा। इस दौरान कबीर शांत रहे और उन्होंने कहा कि वो तो सिर्फ फिल्म बनाते हैं। एयरपोर्ट पर तैनात कुछ सुरक्षाकर्मियों ने बीच में आकर कबीर खान को नारेबाजी कर रहे लोगों से दूर किया और एयरपोर्ट पर सुरक्षा जांच के लिए आगे भेज दिया।

फैंटम के संवादों के चलते लोग हुए नाराज
बता दें कि कबीर खान 'फैंटम' और 'काबुल एक्सप्रेस' जैसी फिल्में बनाई है। इनका कंटेंट एंटी-पाकिस्तान था, इस वजह से पाक में इन फिल्मों का काफी विरोध हुआ था। 'फैंटम' का एक डायलॉग था, 'घर में घुस कर मारेंगे...', इसका पाकिस्तान में काफी विरोध हुआ था। एयरपोर्ट पर कबीर खान का विरोध करने वाले लोग, कुछ इसी तरह के डायलॉग भारत के खिलाफ बोलते नजर आए। हालांकि कबीर खान की सलमान खान स्टारर फिल्म 'बाजरंगी भाईजान' की पाकिस्तान सेंसर बोर्ड ने काफी सराहना की थी। इसमें पाकिस्तान के लोगों की बहुत अच्छी छवि दिखाई गई थी। फिल्म की कहानी एक पाकिस्तानी बच्ची पर बेस्ड थी, जो गलती से हिंदुस्तान की सरहद में आ जाती है। फिर एक एक हिंदुस्तानी शख्स उसे पाकिस्तान लेकर जाता है।

inextlive from Bollywood News Desk

Bollywood News inextlive from Bollywood News Desk