क्त्रड्डठ्ठष्द्धद्ब: एशियन गेम्स में सिल्वर मेडल जीतने वाली भारतीय महिला हॉकी टीम की सदस्य निक्की प्रधान गुरुवार को रांची पहुंचीं. एयर इंडिया की फ्लाइट से दोपहर डेढ़ बजे दिल्ली से रांची पहुंचने पर उनका एयरपोर्ट पर जोरदार स्वागत किया गया. फैंस ने उन्हें कंधे पर उठा लिया. उनकी आगवानी को लेकर सैकड़ों खेलप्रेमी तिरंगे के साथ एयरपोर्ट पर मौजूद थे. ढोल और ताशे की धुन एयरपोर्ट पर गूंज रही थी.

फैंस ने सिर-आंखों पर बिठाया

एयरपोर्ट से बाहर निकलते ही स्पो‌र्ट्स डायरेक्टर अनिल कुमार, हॉकी झारखंड के अध्यक्ष भोलानाथ सिंह, सीईओ रजनीश कुमार, ट्रेजरर अमृता लकड़ा, सचिव विजयशंकर सिंह, बबलू कुमार सहित झारखंड हॉकी के सभी पदाधिकारियों ने उनका वेलकम किया. इसके अलावा मोरहाबादी हॉकी सेंटर, बरियातू हॉकी सेंटर के ग‌र्ल्स-ब्वॉयज, रेसलिंग टीम समेत सैकड़ों खेलप्रेमियों ने देश व राज्य की गौरव बढ़ाने वाली झारखंड की बिटिया को फूल माला पहना कर भव्य स्वागत किया.

मां का पांव छूकर आशीर्वाद

निक्की की आगवानी को लेकर एयरपोर्ट पर उनकी मां जितन देवी, बहन क्रांति प्रधान व सरीना प्रधान मौजूद थीं. एयरपोर्ट पर निक्की ने सबसे पहले अपनी मां का पांव छूकर आशीर्वाद लिया. बेटी से मिलते ही मां की खुशी का ठिकाना नहीं रहा. उन्होंने खुशी से बेटी का सिर चूमकर आशीर्वाद दिया. उन्होंने बेटी को मिठाई खिलाकर मुंह मीठा कराया.

ओलंपिक में मेडल अगला टारगेट

इस अवसर पर उनकी मां जितन देवी ने कहा कि निक्की को बचपन से ही हॉकी से बहुत लगाव था. वह स्कूल के समय से ही बेहतर हॉकी खेलती थी. पढ़ाई के बाद बचने वाले समय में उसके हाथों में हॉकी स्टिक ही होती थी. झारखंड हॉकी के अध्यक्ष भोला नाथ सिंह ने कहा कि एशियन गेम्स हॉकी में सिल्वर जीतना झारखंड सहित पूरे देश के लिए उपलब्धि है. निक्की ने यह कीर्तिमान हासिल किया है. ओलंपिक में मेडल जितना अब हमारा अगला टारगेट होगा.