- करौंदी स्थित आईटीआई में खुलेगा मल्टी सेक्टोरल स्किल डेवलपमेंट सेंटर

- आईटीआई पास युवाओं को स्थानीय जरूरत के हिसाब से कोर्सेज में किया जाएगा पारंगत

>varanasi@inext.co.in

VARANASI

आईटीआई पास किए युवाओं को स्किल्ड बनाकर रोजगार देने की तैयारी चल रही है. इसके लिए करौंदी में मल्टी सेक्टरोल स्किल डेवलपमेंट सेंटर खोला जाएगा. यहां स्थानीय स्तर पर जरूरत के मुताबिक विभिन्न रोजगारपरक कोर्सेज में ट्रेंड कर उन्हें यहां चल रही परियोजनाओं में जॉब दिलाने में मदद की जाएगी. कौशल विकास मिशन के तहत इसकी तैयारी शुरू हो गई है.

लोकल प्रोजेक्ट को मिलेंगे हुनरमंद

बनारस में गैस अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड (गेल) की ओर से पाइप्ड नेचुरल गैस (पीएनजी), आईपीडीएस की ओर से अंडरग्राउंड केबल वर्क, यूपी जलनिगम की पेयजल व गंगा प्रदूषण नियंत्रण इकाई की ओर से क्रमश: पेयजल पाइप लाइन व सीवर लाइन बिछाने समेत तमाम विकास कार्य चल रहे हैं. इसमें बड़ी संख्या में लेबर्स के साथ ही टेक्निकल वर्क और सुपरविजन जैसे कार्यो के लिए स्किल्ड वर्कर्स की जरूरत पड़ती है. कौशल विकास मिशन के तहत इस कवायद से स्किल्ड युवाओं को न सिर्फ रोजगार मिल सकेगा, बल्कि काम के सिलसिले में बड़े शहरों की दौड़ नहीं लगानी होगी.

वीडीए ने रखा था प्रस्ताव

वाराणसी विकास प्राधिकरण (वीडीए) ने पिछले दिनों युवाओं को स्किल्ड बनाने सम्बंधी प्रस्ताव बनारस आए केन्द्रीय मंत्री धर्मेन्द्र प्रधान के समक्ष रखा था. तर्क दिया गया कि तकनीकी रूप से दक्ष युवाओं को जरूरत के हिसाब से रोजगारपरक कोर्सेज में ट्रेंडकर आत्मनिर्भर बनाने में मदद की जा सके. इसके लिए करौंदी स्थित आईटीआई में मल्टी सेक्टोरल स्किल डेवलपमेंट सेंटर खोलने का प्रस्ताव रखा गया.

एक नजर

- 02 आईटीआई हैं शहर में

- 500 से ज्यादा स्टूडेंट्स ले रहे विभिन्न तकनीकी कोर्सेज की ट्रेनिंग

- 70 फीसदी पासआउट स्टूडेंट्स को बनाया जाएगा स्किल्ड

आईटीआई पास युवाओं को हुनरमंद बनाने का प्रस्ताव रखा गया था. इसकी कार्ययोजना भी तैयार की जा चुकी है. शासन से स्वीकृति और धन मिलते ही काम शुरू हो जाएगा.

विशाल सिंह, सचिव, वीडीए