आगरा. प्रधानमंत्री उज्जवला योजना में उपभोक्ताओं को 5 किलो के छोटे सिलेंडर लेने का भी विकल्प दिया जा रहा है. दरअसल उपभोक्ताओं को 14.2 किलोग्राम का बड़ा सिलेंडर रिफिल कराने में आर्थिक परेशानी आड़े आ जाती या छोटे परिवार के लिए छोटे सिलेंडर ही पर्याप्त हैं. उसी को ध्यान में रखते हुए छोटे सिलेंडर की व्यवस्था की गई है.

मुफ्त में बदल सकेंगे सिलेंडर

गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले लाभार्थी कभी भी अपने छोटे सिलेंडर को बड़े में मुफ्त में बदल सकेंगे. इसके लिए कोई शुल्क नहीं देना पड़ेगा. वे 5 किलोग्राम के छोटे सिलेंडर का प्रयोग हमेशा कर सकेंगे. उन्हें बड़े सिलेंडर की जरूरत होगी, तो मुफ्त में सिलेंडर बदल दिया जाएगा.

86 हजार से ज्यादा कनेक्शन बांटे

जिले में प्रधानमंत्री उज्जवला योजना के तहत अभी तक 86 हजार से ज्यादा गैस कनेक्शन बांटे जा चुके हैं. प्रधानमंत्री उज्जवला योजना को मार्च 2019 तक पूर्ण किया जाना है. इस बारे में आईओसी इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन के डीजीएम आरके माथुर ने बताया कि अभी अभियान चल रहा है. जिन पात्र लाभार्थी को उज्जवला योजना के तहत एलपीजी गैस कनेक्शन नहीं मिला है. वे आवेदन कर सकते हैं.

फैक्ट फाइल

- हाउस होल्ड सर्वे के अनुसार जिले में सात लाख 10 हजार मकान हैं.

- जिले में 6 लाख घरों में रसोई गैस का इस्तेमाल किया जाता है

- जिले में तीन कंपनियों की 65 रसोई गैस एजेंसिंयां हैं

- जिले में तीनों कंपनियों के 8,15104 उपभोक्ता हैं

अब उज्जवला योजना में लाभार्थी को पांच किग्रा. का सिलेंडर लेने का भी विकल्प है. उपभोक्ता कभी भी उसको बदल सकेंगे.

विपुल पुरोहित

सचिव ऑल इंडिया इंडेन डिस्ट्रीब्युटर एसोसिएशन