जिले के तीन लाभार्थी होंगे पुरस्कृत

Bareilly: टॉयलेट का पैसा लेकर बिना निर्माण कराए गायब होने वाले लाभार्थियों को खोजने में जहां जिला पंचायती राज विभाग के पसीने छूट रहे हैं. वहीं लोगों को सीख देने के लिए जिला प्रशासन की ओर से अब जिले भर में स्मार्ट टॉयलेट बनाने वालों को पुरस्कृत करने की नीति बनाई जा रही है. जिस दिन बरेली ओडीएफ घोषित होगा उसी दिन शहर के तीन स्मार्ट टॉयलेट बनवाने वालों को प्रमाण पत्र और नगद राशि देकर पुरस्कृत ि1कया जाएगा.

तीन राउंड में होगा चयन

स्मार्ट टॉयलेट बनाने वालों का चयन तीन राउंड में किया जाएगा. पहले ब्लॉक स्तर पर उसके बाद तहसील फिर जिला स्तर पर तीन लोगों को इनाम मिलेगा. इन्हें पुरस्कार राशि कितनी दी जाएगी इसकी अभी घोषणा नहीं की गई है. सीडीओ सत्येंद्र कुमार ने बताया कि नगद राशि सम्मानजनक रहेगी.

फैक्ट्स एंड फिगर

1193 ग्राम सभाएं बरेली में है.

2.34 लाख बनने हैं टॉयलेट.

4972 लाभार्थियों ने पैसा लेकर नहीं बनवाया टॉयलेट.

ब्लॉक की टीम करेंगी चयन

ग्रामसभाओं में बन रहे टॉयलेट में स्मार्ट टॉयलेट किसका है. इसकी पड़ताल के लिए ब्लॉक स्तरीय टीम बनाई जाएगी. सभी ब्लाकों में तीन टीम गठित की जाएंगी. इसी टीम की रिपोर्ट के अनुसार चयन किया जाएगा.

वर्जन-

ओडीएफ बनाने के लिए लोग अधिक से अधिक लोग शौचालय बनवाएं इसके लिए यह कदम उठाया गया है. इस सुविधा से लोग अच्छा और स्वच्छ शौचालय बनवाने का प्रयास करेंगे.

सत्येंद्र कुमार, सीडीओ, बरेली