फोटो सहित

- फोरलेन पर रामनगर कड़जहां के पास हुई चेकिंग

GORAKHPUR: गोरखपुर के रास्ते बिहार जाने वाली अवैध शराब की खेप पकड़े जाने का असर कारोबारियों पर नहीं पड़ रहा है. 24 घंटे के भीतर जिले में एक बार फिर 16 लाख रुपए की शराब पकड़ी गई. गुरुवार रात फोरलेन पर पेट्रोलिंग कर रही खोराबार पुलिस ने संदिग्ध वाहन को रोककर तलाशी ली तो हरियाणा की बनी दो सौ पेटी शराब बरामद हुई. शराब लेकर ड्राइवर और उसके सहयोग बिहार बार्डर पर डिलीवरी देने जा रहे थे. दोनों के खिलाफ केस दर्ज कर पुलिस उनके नेटवर्क से जुड़े अन्य लोगों की तलाश में जुटी है. एसएचओ सुधीर सिंह ने बताया कि हरियाणा और पंबाज से सीधे देवरिया के लिए शराब की खेप भेजी जाती है.

पेट्रोलिंग के दौरान हुई बरामदगी

गुरुवार रात पुलिस टीम हाइवे पर निकली थी. तभी पुलिस को सूचना मिली कि सहजनवा से आ रही पिकअप में अवैध शराब की खेप लगी है. रामनगर करजहां के पास पुलिस टीम ने वाहन को रोक लिया. तलाशी लेने पर उसमें लदी दो सौ पेटी शराब बरामद हुई. पुलिस का कहना है कि शराब की कीमत करीब 16 लाख रुपए है. पकड़े गए लोगों की पहचान हिसार के सीसर निवासी सोनू उर्फ सावन कुमार और प्रवीन कुमार के रूप में हुई. दोनों ने बताया हरियाणा में हजारी सिंह ने शराब की खेप उपलब्ध कराई थी. उसने बिहार बार्डर पर पहुंचकर शराब की डिलेवरी देने के लिए कहा. पकड़े गए लोगों से पूछताछ करके पुलिस उनके नेटवर्क से जुड़े अन्य तस्करों की तलाश में जुटी है. बुधवार की रात पुलिस टीम ने 52 लाख रुपए से अधिक के शराब की खेप बरामद की थी. पकड़े गए लोगों के खिलाफ पुलिस ने जानलेवा हमला करने, अवैध ढंग से शराब की तस्करी करने सहित कई धाराओं में केस दर्ज किया है.