आगरा. एसएन मेडिकल कॉलेज की कायाकल्प होगी. पुराने पड़े भवनों की मरम्मत होगी. भवनों का स्वरूप बदलकर उनको अच्छी स्थिति में लाने में हर संभव प्रयास किए जाएंगे. उत्तर प्रदेश चिकित्सा शिक्षा प्रमुख सचिव द्वारा एसएन के जीर्णोद्धार के लिए छह करोड़ 88 लाख 81 हजार रूपए का बजट पास किया गया है.

13 भवन शामिल

एसएन मेडिकल कॉलेज में पुरानी ओपीडी की जगह नई सुपरस्पेशियलिटी बिल्डिंग बनाने की योजना पारित हो चुकी है. जिसका काम जल्द शुरू होने वाला है. इसी कार्य के साथ ही एसएन में पुराने कार्यालय, इमरजेंसी भवन, छात्रावास भवनों, वार्डाे, लेक्चर थियेटर, नेत्र रोग वार्ड आदि को रेनोवेट किया जाएगा. आवेदन में प्रिंसिपल ऑफिस, प्राचार्य आवास समेत 13 भवनों को शामिल किया गया है.

इन भवनों का होगा जीर्णोद्धार

प्रिंसिपल ऑफिस -

यहां का एरिया खराब पड़ा हुआ है. उससे हर रोज प्लास्टर गिरता है.सीलन हमेशा बनी रहती है. बरसात के दिनों में स्थिति और भी खराब हो जाती है. प्रचार्या कार्यालय 1911 का बना हुआ है. जिसकी अब जीणोद्धार किया जाएगा. इसके साथ ही प्राचार्य आवास की स्थिति भी सुधारी जाएगी.

इमरजेंसी भवन-

एसएन की इमरजेंसी भवन 2004 में बना हुआ था. भवन की छतें जर्जर है. आए दिन छतों का प्लास्टर गिरता रहता है. दीवारों पर सीलन रहती है. जिनकी मरम्मत की जाएगी. शौचालयों एवं सीवर लाइन के कार्य, उच्च क्षमता का ट्रांसफार्मर एवं डीजी सेट लिफ्ट आदि बदली जाएंगी. वार्ड एरिया को वातानुकूलित किया जाएगा.

नेत्र रोग वार्ड-

1942 का बना नेत्ररोग वार्ड की भी यही हालात है. छते जर्जर पड़ी है. आए दिन प्लास्ट गिरता रहता है. बजट में विभाग के शौचालयों, सेनीटेशन, विद्युत फिटिंग एवं दरवाजों आदि की मरम्मत की जाएगी.

हॉस्टल-

एसबीएच न्यू विंग, एसबीएच ओल्ड विंग, ओबीसी ग‌र्ल्स हॉस्टल,पन्त छात्रावास आदि हॉस्टल में सब हॉस्टलों को मिलाकर करीब 99 शौचालय, बाथरूम, सेनीटेशन, विद्युत फिटिंग एवं दरवाजों की मरम्मत कार्य किया जाएगा.

किचिन ब्लॉक हॉस्पीटल-

किचिन ब्लॉक हास्पिटल की छतें जर्जर है. छतों से गिरता प्लास्टर आए दिन लोगों की मुसीबत बना हुआ है. खाने में भी प्लास्टर गिर जाता है. जिसकी अब मरम्मत की जाएगी. लाउन्ड्री एरिया को भी सही किया जाएगा.