न्यूयॉर्क (आईएएनएस)। शोधकर्ताओं ने चेतावनी देते हुए कहा है कि फेसबुक, स्नैपचैट और इंस्टाग्राम जैसे सोशल मीडिया का अत्यधिक उपयोग किसी व्यक्ति को डिप्रेशन और अकेलापन का शिकार बना सकता है। जर्नल ऑफ सोशल एंड क्लीनिकल साइकोलॉजी में प्रकाशित एक अध्ययन के मुताबिक, मोबाइल और कंप्यूटर स्क्रीन पर ज्यादा देखने से सेहत खराब हो सकती है। यूएस में पेंसिल्वेनिया विश्वविद्यालय के मेलिसा हंट ने इससे बचने का उपाय देते हुए कहा, 'आप सोशल मीडिया में व्यस्त रहने के अलावा उन चीजों पर अधिक समय बिता सकते हैं, जो आपको अपने जीवन को बेहतर बनाने में मदद करते हैं।' बता दें कि इस अध्ययन के लिए, विश्वविद्यालय के शोधकर्ताओं ने 143 स्नातक प्रतिभागियों शामिल किया था।

तीन हफ्तों तक चला शोध
शोधकर्ताओं की टीम ने प्रतिभागियों की परीक्षा के लिए सोशल मीडिया में सबसे प्रचलित तीन बड़े प्लेटफॉर्म को चुना था और यह शोध करीब तीन हफ्तों तक चला। शोध के दौरान शोधकर्ताओं ने पाया कि फेसबुक, इंस्टाग्राम और स्नैपचैट जैसे सोशल मीडिया का उपयोग करने के बाद कई प्रतिभागी अकेलापन, डर, चिंता और डिप्रेशन का शिकार हो गए। नतीजे बताते हैं कि सामान्य रूप से कम सोशल मीडिया का उपयोग करने से अवसाद और अकेलापन दोनों में कमी आएगी। हालांकि, शोधकर्ताओं ने निष्कर्षों के साथ यह सुझाव देते हुए कहा कि 18 से 22 वर्ष के युवाओं को सोशल मीडिया का पूरी तरह से उपयोग करना बंद नहीं करना चाहिए। शोधकर्ताओं ने कहा, 'चूंकि ये उपकरण समाज के लिए बेहद महत्वपूर्ण हैं, इसलिए इसका उपयोग बंद करने के बजाय सीमित करना होगा।

दिवाली 2018 : फेसबुक पर दिल खोलकर शेयर कीजिए अपनी कहानी, लॉन्‍च हुआ 'दिवाली स्‍टोरी फीचर'

फेसबुक बना रहा है हाईटेक AR ग्लासेस, अब लोग दुनिया देखेंगे फेसबुक की नजर से

International News inextlive from World News Desk