- शराब के नशे में धुत था फौजी पकड़े जाने पर मांगने लगा माफी

BAREILLY:

ट्रेनों में महिला यात्रियों का सफर सुरक्षित नहीं हैं. ट्रेनों में लगातार महिलाओं से छेड़छाड़ की वारदातें बढ़ रही है. अब न्यू फरक्का एक्सप्रेस में एक फौजी ने एसी कोच में इंजीनियरिंग छात्रा से छेड़छाड़ कर दी. बरेली में जीआरपी ने छात्रा की शिकायत पर फौजी गिरफ्तार कर लिया. मुकदमा दर्ज कर जेल भेज दिया गया.

जीआरपी ने किया गिरफ्तार

न्यू फरक्का एक्सप्रेस के बी-2 कोच में फौजी निखिलेश ने कोच में शराब पी. इसके बाद सीट-21 पर सवार छात्रा से अश्लील हरकत करने लगा. शौचालय तक छात्रा का पीछा किया. इंजीनियरिंग छात्रा ने सीट पर आकर अपनी मां को इसके बारे में जानकारी दी, फिर तो कोच में बखेड़ा खड़ा हो गया. कुछ यात्रियों ने इस बात की सूचना रेलवे कंट्रोल को दी. बरेली जंक्शन पर ट्रेन पहुंची तो छात्रा की शिकायत पर जीआरपी ने फौजी निखिलेश को गिरफ्तार कर लिया.

समझौता करने से कर दिया मना

आरोपी निखिलेश ने अपनी गिरफ्तारी के बारे में विभागीय अधिकारियों को सूचना दी तो कुछ ही देर में बरेली से सेना के तमाम अफसर जीआरपी थाने पहुंच गए. मामला निपटाने के लिए प्रयास में लगे. निखिलेश ने माफी मांगकर समझौता करने के लिए कहा. छात्रा ने मना कर दिया. कहा, आरोपी को हर हाल में सजा मिलनी चाहिए. परिवार वालों ने भी छात्रा का साथ दिया और समझौता करने से मना कर दिया. जीआरपी का कहना है कि इंजीनियरिंग छात्रा दिल्ली में पालम की रहने वाली है, जो अपने परिवार के साथ दिल्ली से वाराणसी को सफर कर रही थी. फौजी भी दिल्ली से ही प्रतापगढ़ के लिए सवार हुआ था.

फौजी को भेजा जेल

निखिलेश मूलरूप से प्रतापगढ़ का रहने वाला है. पोस्टिंग 30-राजपूताना रेजीमेंट दिल्ली में तैनाती है. निखिलेश छुट्टियों में अपने घर जा रहे थे. जीआरपी ने छात्रा की शिकायत पर आरोपी निखिलेश के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया. धारा 354 और 504 के तहत कार्रवाई कर जेल भेज दिया.

छेड़खानी का मामला पहले भी

दो महीने पहले दून-हावड़ा एक्सप्रेस में एसी-2 में एक प्रोफेसर महिला यात्री के साथ कोच में सवार फौजी ने छेड़छाड़ की थी. आरोपी को मुरादाबाद में जीआरपी ने पकड़ा था. लेकिन मामले की तहरीर महिला यात्री ने बरेली जंक्शन जीआरपी में दी थी. महिला और फौजी देहरादून से ही एक्सप्रेस पर सवार हुए थे. फौजी ने रात को सोते समय महिला को पकड़ने का प्रयास किया था. तभी महिला ने हंगामा कर के यात्रियों की मदद से फौजी को पकड़ लिया था. हालांकि मामले में रिपोर्ट होने केबाद फौजी को उसी दिन जमानत भी मिल गई थी.

छेड़खानी के मामले में छात्रा की शिकायत पर आरोपी फौजी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया. फौजी राजपूताना रेजीमेंट दिल्ली में तैनात है.

विजय कुमार, इंस्पेक्टर, जीआरपी, बरेली जंक्शन