अंतिम आेवर में जीता मैच
नई दिल्ली (जेएनएन)। आर्इपीएल 2018 का पहला क्वालीफायर मैच चेन्नई सुपर किंग्स और सनराइडर्स हैदराबाद के बीच खेला गया। इस मैच में चेन्नई के बल्लेबाज डू प्लेसिस और शर्दुल ठाकुर ने अपनी तूफानी पारी के दम पर सीएसके को आखिरी क्षणों में दो विकेट से जीत दिला दी। इस जीत के साथ ही चेन्नई नेआर्इपीएल के इस सीजन के फाइनल में जगह बना ली। मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में खेले गए इस मैच में चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। पहले बल्लेबाजी करते हुए हैदराबाद ने 20 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 139 रन बनाए। चेन्नई को जीत के लिए 140 रन का लक्ष्य मिला था। रोमांच से भरे इस मैच में चेन्नई की जीत की उम्मीद लगभग खत्म सी हो गई थी लेकिन डू प्लेसिन ने नाबाद 67 और शर्दुल ठाकुर ने नाबाद 15 रन की पारी खेलकर टीम को जीत दिलाई। जीत के लिए मिले लक्ष्य को चेन्नई ने 19.1 ओवर में 8 विकेट पर हासिल कर लिया। सीएसके ने 19.1 ओवर में 8 विकेट पर 140 रन बनाए। डू प्लेसिस को उनकी बेहतरीन पारी के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया।
धोनी समेत 6 बल्लेबाज हुए फ्लाॅप तो 10वें नंबर के खिलाड़ी ने चेन्नर्इ को पहुंचाया ipl 11 के फाइनल में
डू प्लेसिस की नाबाद 67 रन की पारी
दूसरी पारी में हैदराबाद के तेज गेंदबाज भुवनेश्वर कुमार ने अपनी टीम को शानदार शुरुआत दिलाई। उन्होंने विरोधी टीम के ओपनर बल्लेबाज शेन वॉटसन को शून्य के स्कोर पर श्रीवत्स गोस्वामी के हाथों कैच करवा दिया। सुरेश रैना को सिद्धार्थ कौल ने क्लीन बोल्ड कर दिया। उन्होंने 13 गेंदों पर 22 रन बनाए। अंबाती रायडू को भी कौल ने बिना खाता खोले ही पवेलियन का रास्ता दिखा दिया। रायडू भी क्लीन बोल्ड हुए। टीम के कप्तान धौनी को सिर्फ 9 रन पर राशिद खान ने क्लीन बोल्ड कर दिया। ड्वेन ब्रावो को राशिद खान ने अपना दूसरा शिकार बनाया और 7 रन पर धवन के हाथों कैच करवा दिया। रवींद्र जडेजा को संदीप शर्मा ने 3 रन पर अपनी ही गेंद पर कैच कर लिया। दीपक चाहर को संदीप शर्मा ने 10 रन पर कैच आउट करवाया। चाहर का कैच कार्लोस ब्रेथवेट ने लपका। हरभजन सिंह 2 रन बनाकर रन आउट हो गए। डू प्लेसिस ओपनिंग करने आए थे और टीम की जीत तक क्रीज पर टिके रहे। उन्होंने नाबाद 67 रन की पारी 42 गेंदों पर खेली। शर्दुल ठाकुर ने 5 गेंदों पर नाबाद 15 रन की अहम पारी खेली। हैदराबाद के गेंदबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। राशिद खान, सिद्धार्थ कौल और संदीप शर्मा ने दो-दो जबकि भुवनेश्वर कुमार ने एक विकेट लिए।
धोनी समेत 6 बल्लेबाज हुए फ्लाॅप तो 10वें नंबर के खिलाड़ी ने चेन्नर्इ को पहुंचाया ipl 11 के फाइनल में
शून्य पर आउट हुए शिखर, नहीं चले केन
मैच की पहली पारी में ओपनिंग करने उतरे हैदराबाद के ओपनर बल्लेबाज शिखर धवन को चेन्नई के तेज गेंदबाज दीपक चाहर ने क्लीन बोल्ड कर दिया। शिखर धवन बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए। चेन्नई को दूसरी सफलता पारी की चौथे ओवर की पांचवीं गेंद पर तेज गेंदबाज लुंगी नजीडी ने दिला दी। उन्होंने श्रीवत्स गोस्वामी को अपनी ही गेंद पर कैच आउच कर दिया। उन्होंने 9 गेंदों पर 12 रन बनाए। बेहतरीन फॉर्म में चल रहे टीम के कप्तान केन विलियमसन को शर्दुल ठाकुर ने अपना शिकार बनाया। अच्छी लय में दिख रहे केन को शर्दुल ने विकेट के पीछे धौनी के हाथों कैच करवा दिया। उन्होंने 15 गेंदों पर 24 रन बनाए। पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करने आए शाकिब अल हसन ने आते ही कुछ अच्छे शॉट्स खेले लेकिन सिर्फ 12 रन के स्कोर पर उन्हें ड्वेन ब्रावो ने महेंद्र सिंह धौनी के हाथों कैच करवा दिया। मनीष पांडे से टीम को उम्मीद थी लेकिन वो भी इस परीक्षा में फेल रहे और अपना विकेट रवींद्र जडेजा को थमा दिया। सिर्फ 8 रन बनाकर जडेजा ने उन्हें अपनी गेंद पर लपक लिया। यूसुफ पठान भी क्रीज पर जूझते नजर आए। उन्होंने 29 गेंदों पर 24 रन बनाए और ब्रावो की गेंद पर उन्हें कैच थमा बैठे। कार्लोस ब्रेथवेट 29 गेंद पर नाबाद 43 रन बनाए जबकि भुवनेश्वर 7 रन बनाकर रन आउट हो गए। चेन्नई की तरफ से ड्वेन ब्रावो ने दो, दीपक चाहर, लुंगी नजीडी, शर्दुल ठाकुर व रवींद्र जडेजा ने एक-एक विकेट लिए।

हारने वाली टीम के पास होगा एक और मौका
चेन्नई को जीत के बाद सीधे फाइनल का टिकट मिल गया तो वहीं हैदराबाद के पास फाइनल में पहुंचने का एक मौका और है। बुधवार को कोलकाता और राजस्थान के बीच खेले जाने वाले एलिमिनेटर मुकाबले की विजेता टीम को हैदराबाद के साथ 25 मई को दूसरे क्वालीफायर मैच में भिड़ना होगा।

Cricket News inextlive from Cricket News Desk