-फतेहगंज पूर्वी के बाद भोजीपुरा एसएचओ को भी एसएसपी ने हटाया

BAREILLY: विधायकों की बात न मानना थाना प्रभारियों को भारी पड़ रहा है. विधायकों की शिकायत के बाद एसएसपी ने थाना प्रभारियों का चार्ज छीन लिया है. एसएसपी ने ट्यूजडे दिन में पहले फतेहगंज पूर्वी के थाना प्रभारी राजेश कुमार को लाइन भेज दिया था. रात होते-होते भोजीपुरा इंस्पेक्टर सुरेंद्र सिंह पचौरी को भी क्राइम ब्रांच भेज दिया गया. एसएसपी ने वेडनसडे को 85 कॉन्स्टेबल का भी ट्रांसफर किया है. इसमें दूसरे जनपद से आए कॉन्स्टेबल भी हैं.

शराब भट्ठी में बंद करने का आरोप

इंस्पेक्टर भोजीपुरा सुरेन्द्र पचौरी को विधायक बहोरनलाल मौर्य की नाराजगी भारी पड़ गई. उनकी जगह पर मीरगंज से राजेश कुमार को भेजा गया है. भोजीपुरा इंस्पेक्टर सुरेन्द्र पचौरी ने कुछ लोगों को शराब भट्ठी में बंद कर दिया था. मामला क्षेत्रीय विधायक बहोरन लाल मौर्य तक पहुंचा. विधायक ने इस पर कड़ी नाराजगी जाहिर करते हुए एसएसपी से इसकी शिकायत की थी. तहसील दिवस में भी विधायक ने कप्तान के सामने भोजीपुरा इंस्पेक्टर पर गंभीर आरोप लगाए थे. विधायक की नाराजगी का यह मामला ऊपर पार्टी हाईकमान तक पहुंचा था. बताया जा रहा है कि महिल स्टॉफ ने भी इंस्पेक्टर की शिकायत की थी.

इनका भी किया ट्रांसफर

इसी तरह से फतेहगंज पूर्वी इंस्पेक्टर राजेश कुमार की शिकायत विधायक श्याम बिहारी ने एसएसपी से की थी. इंस्पेक्टर पर रमपुरा कमन गांव में नई परम्परा बताकर झांकी न निकलने देने का भी आरोप लगा था. एसएसपी ने इस मामले में इंस्पेक्टर के अलावा एसआई प्रवीन और मुंशी को लाइन हाजिर कर दिया. इससे पहले भी एसएसपी ने 4 थाना प्रभारियों का ट्रांसफर किया था. जिसमें किला और इज्जतनगर को शिकायत मिलने पर हटाया गया था. ट्रांसफर कैंट इंस्पेक्टर धमर्ेंद्र गुप्ता का भी किया गया था, क्योंकि उन्होंने विधायक पप्पू भरतौल से पंगा लिया था. हालांकि उन्हें किला थाने का चार्ज दिया गया.