ankho dekhi

- विभाग के अफसर 10.30 के बाद पहुंचते हैं ऑफिस, कर्मचारी भी करते मनमानी

- सीएम ने सभी अफसरों को 10 बजे तक जनता दरबार लगा देने का दे रखा है निर्देश

GORAKHPUR

सीएम योगी आदित्यनाथ ने सभी अफसरों को 10 बजे तक ऑफिस पहुंचकर जनता दरबार लगा देने का निर्देश दे रखा है ताकि पब्लिक को दिक्कत न हो लेकिन उनकी ही सिटी में बिजली विभाग में उनके आदेश का पालन होता नहीं दिख रहा. मंगलवार को दैनिक जागरण आई नेक्स्ट की टीम जब बिजली विभाग अफसरों के वहां हकीकत जानने के लिए पहुंची. सुबह 10 से 10.45 बजे तक तीन एक्सईएन ऑफिसों के हालात से टीम रू-ब-रू हुई. सुबह 10.15 तक छुट्टी सा महौल था, 10.30 तक रौनक लौटती दिखी तो 11 बजे से काम शुरू हुआ.

----------

मोहद्दीपुर

समय: सुबह 10.12 बजे

डेली आने वाली पब्लिक: 2-2.5 हजार

महानगर विद्युत वितरण निगम के डिविजन थर्ड का मेन ऑफिस मोहद्दीपुर चीफ इंजीनियर ऑफिस के पास है. इस ऑफिस में राप्ती नगर, शाहपुर, मेडिकल कालेज, बशारतपुर, शिवपुर सहबाजगंज, मोहद्दीपुर, कूड़ाघाट, नंदा नगर, इंजीनियरिंग कॉलेज, सहारा एस्टेट और खोराबार आंशिक एरिया के लोग अपनी प्रॉब्लम लेकर आते हैं. टीम जब पहुंची तो ऑफिस खाली था. सिर्फ तीन एंप्लाइज आए थे. 10.12 बजे एक्सईएन ऑफिस में लाइट जल रही थी लेकिन कुर्सी खाली थी. जिधर एंप्लाइज बैठते हैं वहां भी सिर्फ एक बाबू दिखा, बाकी कुर्सियां खाली पड़ी थीं.

--------

चीफ ऑफिस

सुबह: 10.15 बजे

डेली आने वाले कंज्यूमर, एंप्लाइज: 2000- 3000

गोरखपुर जोन का चीफ इंजीनियर ऑफिस भी मोहद्दीपुर में है. पता चला कि चीफ इंजीनियर अभी आए ही नहीं है. उनके ऑफिस में तीन-चार लोग मौजूद थे. ऑफिस में तैनात दो कर्मचारियों से बात की गई तो पता चला कि यहां 10.45 बजे के बाद ही अधिकारी आते हैं.

-----------

शास्त्री चौक

समय: 10.25 बजे

डेली आने वाली पब्लिक: 15 सौ से 2 हजार

महानगर विद्युत वितरण निगम के डिविजन फ‌र्स्ट का ऑफिस शास्त्री चौक स्थित बिजली विभाग ऑफिस में है. यहां पर एक्सईएन और एक जेई बैठते हैं, लेकिन मंगलवार को जब टीम सुबह 10.25 बजे ऑफिस पहुंची तो ऑफिस खुल ही रहा था. अधिकतर एंप्लाइज आ गए थे लेकिन बिलिंग काउंटर 10.15 के बाद खुला था. नौसड़ से आए एक कंज्यूमर ने बताया कि 10 बजे वह पहुंचा तो काउंटर बंद था. टीम 10.35 बजे एक्सईएन ऑफिस के कमरे में पहुंची तो अंदर लाइट जल रही थी, लेकिन कोई मौजूद नहीं था.

-----------

बक्शीपुर ऑफिस

समय: 10.40 बजे

डेली आने वालों की संख्या: 2000- 3000

महानगर विद्युत वितरण निगम के डिविजन सेकेंड का ऑफिस बक्शीपुर चौराहे पर है. इस ऑफिस से शहर के सबसे अधिक कंज्यूमर्स जुड़े हुए हैं. इस ऑफिस से जुड़े हुए अधिकतर एरिया घनी आबादी वाले हैं. टीम सुबह 10.40 बजे बक्शीपुर ऑफिस पहुंची तो पता चला कि एक्सईएन छुट्टी पर हैं. अधिकारी के नहीं होने का असर दिख रहा था. 10.45 बजे बक्शीपुर एरिया का बिल सही करने वाले राजस्व विभाग में ताला लटका हुआ था.

-------------

कॉलिंग

मैं तो जान गया हूं कि बिजली विभाग में यदि काम कराना है तो दोपहर में आइए. अफसर सुबह ही बैठते तो प्रॉब्लम ही क्या थी.

- हीरालाल, प्रोफेशनल

ऑफिस आने पर कोई अधिकारी समय से नहीं मिलता. सबसे अधिक परेशानी बिल जमा करने को लेकर होती है. बिलिंग करने वाले कर्मचारी घर पर जाते ही नहीं हैं.

- देव प्रकाश, रिटायर्ड कर्मी

मैं पहले हर माह 25 तारीख को बिल जमा करता था, लेकिन पिछली बार बिल ही गड़बड़ मिला. सुधार के लिए जब भी सुबह 10.30 बजे के पहले आया, अफसर नहीं मिले.

- नीरज श्रीवास्तव, प्रोफेशनल

--------------

वर्जन