- राज्य विज्ञान शिक्षा संस्थान में राज्य स्तरीय विज्ञान संगोष्ठी में जुटे विभिन्न मंडलों के स्टूडेंट्स

- नौवीं से दसवीं तक के स्टूडेंट्स ने संगोष्ठी में किया पार्टिसिपेट

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: राज्य विज्ञान शिक्षा संस्थान के सभागार में शुक्रवार को राष्ट्रीय विज्ञान संग्रहालय परिषद, नई दिल्ली के द्वारा राज्य शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद के संरक्षण में एक दिवसीय राज्य स्तरीय विज्ञान संगोष्ठी का आयोजन किया गया. जिसका विषय औद्योगिक क्रांति 4.0 - क्या हम तैयार है? रखी गई. संस्थान की निदेशक डॉ. सुत्ता सिंह के निर्देशन में आयोजित हुए विज्ञान संगोष्ठी में प्रदेश के सभी मंडलों के कक्षा 8 से दसवीं तक के स्टूडेंट्स ने पार्टिसिपेट किया. इस मौके पर उद्घाटन सत्र के मुख्य अतिथि एससीईआरटी के निदेशक संजय सिन्हा, डॉ. सुत्ता सिंह, डॉ. सुधा प्रकाश ने दीप प्रज्जवलित करके संगोष्ठी की शुरुआत की. संगोष्ठी के दौरान गोरखपुर की शुभी श्रीवास्तव को प्रथम, वाराणसी के आदित्य कुंवर को द्वितीय स्थान मिला.

बाल वैज्ञानिकों का बढ़ाया उत्साह

संगोष्ठी के मौके पर मुख्य अतिथि संजय सिन्हा ने बाल वैज्ञानिकों का जमकर उत्साह बढ़ाया. इस दौरान उन्होंने कहा कि ऐसी संगोष्ठी के जरिए स्टूडेंट्स को अपना दृष्टिकोण एवं विचार व्यक्त करने का मौका मिलता है. औद्योगिक क्रांति 4.0 की सफलता में विद्यालय का योगदान सबसे महत्वपूर्ण है. क्योकि यहीं से बच्चों की शिक्षा प्रारम्भ होती है. इस दौरान उन्होंने मोबाइल क्रांति तथा डिजिटल इंडिया पर प्रकाश डाला. संगोष्ठी के दौरान विभिन्न मंडलों से आए प्रतिभागियों ने मजबूती और तथ्यों के साथ अपने विचार रखे.