केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड ने निर्माणी एजेंसियों को जारी की गाइडलाइन

विभिन्न निर्माण कार्यो से उठने वाली धुंध को रोकने के लिए उठाया कदम

Meerut. मौसम विभाग के अलर्ट के बाद केंद्रीय प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड (सीपीसीबी) ने दिल्ली-एनसीआर समेत मेरठ की सभी निर्माणी एजेंसियों को गाइडलाइन जारी की है. सीपीसीबी ने एनएचएआई, पीडब्ल्यूडी समेत विभिन्न निर्माणी संस्थाओं को फिलहाल हाइवे निर्माण पर रोक के निर्देश दिए हैं. बोर्ड का मानना है कि बलूचिस्तान-राजस्थान से आ रही धुंध से प्रदूषण में रिकार्ड वृद्धि हो रही है. ऐसे में कोई भी ऐसी गतिविधियां न की जाएं, जिससे प्रदूषण का स्तर और बढ़े. कमिश्नर डॉ. प्रभात कुमार ने बताया कि धूल भरी हवाओं से प्रदूषण के स्तर में रिकार्ड इजाफा हो रहा है. मेरठ मंडल के सभी जनपद के डीएम को सीपीसीबी की गाइडलाइन के अनुपालन के निर्देश दे दिए गए हैं.

बैठक कर लिया निर्णय

प्रदूषण नियंत्रण के लिए सीपीसीबी के ग्रीडिंग रिस्पांस एक्शन प्लान (जीआरएपी) के लिए गठित टास्क फोर्स की एक आकस्मिक बैठक बीती 13 जून को दिल्ली में आयोजित की गई. इस बैठक में यूपी पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड, एनएचएआई, पीडब्ल्यूडी, म्युनिसिपल कॉरपोरेशन आदि निर्माणी एजेंसियों ने एक साथ बैठक की. बैठक में सीपीसीबी ने मौसम विभाग के अनुमान को दोहराते हुए कहा कि आने वाले 3 दिनों तक आसमान में धुंध छाई रहेगी. ऐसे में डस्ट के कारण पीएम 10 के लेवल में रिकार्ड इजाफा हो रहा है. जिसके बाद बैठक में निर्णय लिया गया कि फिलहाल वे सभी कार्य बंद कर दिए जाएं, जो डस्ट और पॉल्यूशन को बढ़ावा दे रहे हैं. हालांकि मेरठ में गुरुवार को बुधवार की अपेक्षा पीएम 10 के लेवल में गिरावट दर्ज की गई.

सीपीसीबी की गाइडलाइन

सभी स्टोन क्रशर और हॉट मिक्स प्लांट पर रोक.

मेरठ-दिल्ली एक्सप्रेस-वे, मेरठ-बुलंदशहर एक्सप्रेस-वे चौड़ीकरण समेत ऐसी सभी सड़कों के निर्माण पर फिलहाल रोक.

जिन साइट्स पर निर्माण कार्य होगा, उन पर डस्ट कंट्रोल करनी होगी.

शहर में बड़े निर्माण कार्यो पर रोक.

बिल्डिंग मैटेरियल के आवागमन और बल्क में प्रयोग पर रोक.

इसके अलावा यह भी..

सड़कों पर पानी का छिड़काव और मशीन से सफाई कराई जाए, जिससे धूल न उठने पाए.

14 जून के आंकड़े

स्थान - पीएम 2.5 पीएम 10

बेगमपुल - 98 - 134

कमिश्नरी - 76 - 124

शास्त्रीनगर - 54 - 110

बिजली बंबा - 96 - 154

13 जून के आंकड़े

बेगमपुल - 139 - 235

कमिश्नरी - 120 - 235

शास्त्रीनगर - 90 - 172

बिजली बंबा - 89 - 150

मानक

पीएम-2.5-मानक 60 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर

पीएम-10-मानक 100 माइक्रोग्राम प्रति क्यूबिक मीटर