-काशी विद्यापीठ में छात्रसंघ चुनाव की डेट घोषित कराने को लेकर मुखर रहे छात्र, जमकर हुई नारेबाजी

-नेक्स्ट मंथ में चुनाव कराने का विवि प्रशासन ने दिया आश्वासन

काशी विद्यापीठ में छात्रसंघ चुनाव जल्द कराने की मांग को लेकर छात्रों ने शनिवार की सुबह प्रशासनिक भवन पर जमकर हंगामा किया. नारेबाजी कर आवाज बुलंद की. वीसी ऑफिस के बाहर विरोध प्रदर्शन कर रहे छात्रों ने चुनाव की जल्द से जल्द डेट जारी करने की मांग की. वीसी प्रो. टीएन सिंह को पत्रक देने को अमादा छात्रों को सुरक्षाकर्मियों ने अंदर नहीं घुसने दिया. हालांकि वीसी उस दौरान अपने ऑफिस में मौजूद नहीं थे. चीफ प्रॉक्टर शंभूनाथ उपाध्याय ने किसी तरह आक्रोशित छात्रों को समझा-बुझाकर शांत कराया. आश्वासन दिया कि सितंबर के लास्ट वीक तक चुनाव की डेट डिक्लेयर की जाएगी. किसी अप्रिय घटना से बचने के लिए विद्यापीठ चौकी ने पुलिस फोर्स भी बुलाई ली थी.

आश्वासन पर माने

छात्रसंघ चुनाव की डेट और चुनाव अधिकारी डिक्लेयर करने की मांग को लेकर छात्र नेताओं का समूह कैंपस में सुबह से ही चक्रमण करना शुरू कर दिया था. जैसे-जैसे दिन चढ़ा वैसे-वैसे छात्रों का जुटान भी होता गया. 35 से 40 छात्रों का ग्रुप एकत्रित होकर वीसी से मिलने को अमादा हो गया. जब मालूम चला कि वीसी अपने ऑफिस में नहीं हैं तो छात्रों का गुस्सा सातवें आसमान पर चढ़ गया और प्रशासनिक भवन के चैनल गेट पर ही धरने पर बैठ गए. कुछ छात्रों की सुरक्षाकर्मियों से नोकझोक भी हुई. बीच-बचाव करते हुए चीफ प्रॉक्टर शंभूनाथ उपाध्याय ने छात्रों का ज्ञापन लिया और यह विश्वास दिलाया कि 29 सितंबर तक चुनाव संबंधी सूचनाएं जारी कर दी जाएंगी. तब जाकर छात्र प्रशासनिक भवन से हटे. विरोध में शशांक सिंह रघुवंशी, प्रीत सौरभ मिश्रा, अभिषेक मिश्रा आरडी, हिमांशु, अभय प्रताप आदि रहे.