हॉस्टल वाशआउट को लेकर हुए बवाल के बाद गिरफ्तार किए गए थे 11 छात्रनेता

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD हॉस्टल खाली कराए जाने के विरोध में मंगलवार को उपद्रव, आगजनी व तोड़फोड़ के आरोप में गिरफ्तार किए गए 11 छात्रनेताओं को पुलिस ने विभन्न जेलो में शिफ्ट कर दिया है. बुधवार को नैनी सेंट्रल जेल से छात्र संघ अध्यक्ष, उपाध्यक्ष समेत अन्य छात्रनेताओं को पड़ोसी जिले कौशांबी, प्रतापगढ़, जौनपुर, चित्रकुट की जेलों में भेजा गया है. इसकी भनक लगते ही छात्रों में आक्रोश की चिंगारी फिर सुलगने लगी है.

कार्रवाई से छात्रों में रोष

बतादें कि मंगलवार को हॉस्टल वॉशआउट के विरोध में छात्रनेताओं व सैकड़ो छात्रों ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पास जमकर बवाल किया था. पथराव, तोड़फोड़ करते हुए आक्रोशित छात्रों ने पुलिस की और अन्य गाडि़यां जला दी थी. कई घंटे चले बवाल के बाद पुलिस ने 11 छात्रनेताओं को गिरफ्तार किया. कर्नलगंज थाने में चौकी प्रभारी विश्वविद्यालय आजाद सिंह की तहरीर पर 11 छात्रनेताओं को नामजद करते हुए 400 अज्ञात के विरुद्ध पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज की थी. गिरफ्तारी के बाद छात्रनेताओं को रात में ही पेशी के बाद पुलिस नैनी सेंट्रल जेल भेज दी थी. बुधवार को छात्रसंघ अध्यक्ष अवनीश यादव, उपाध्यक्ष चंद्रशेखर, और अवनीश को चित्रकूट जेल शिफ्ट कर दिया गया. जबकि उदय प्रकाश, अभिषेक यादव, संकेत मिश्र को जौनपुर, महामंत्री निर्भय द्विवेदी को कौशांबी, अनुराग, कौशलेश को मीरजापुर और आशीष यादव व अनम सिंह को प्रतापगढ़ की जेलों में शिफ्ट कर दिया गया. इन छात्रनेताओं को दूसरे जेलों में डीएम की संस्तुति के बाद भेजा गया.

डीएम के आदेश के बाद कड़ी सुरक्षा में सभी छात्रनेताओं को पड़ोसी जिलों की जेलों में शिफ्ट करा दिया गया.

वीआर वर्मा, जेल सुपरिटेंडेंट