-चुनाव की मांग को लेकर छात्रों ने अब रोकी वीसी की गाड़ी

-स्पो‌र्ट्स कॉम्प्टीशन के समापन में जा रहे थे वीसी

-पुलिस ने बीच-बचाव कर निकलवाई गाड़ी

GORAKHPUR: गोरखपुर यूनिवर्सिटी में चुनाव की मांग जोर पकड़ती जा रही है. स्टूडेंट्स का विरोध भी सख्त होता जा रहा है. शनिवार को स्टूडेंट्स ने वीसी की गाड़ी को रोककर चुनाव की मांग की और खूब नारेबाजी भी की. इसमें वह छात्रनेता भी शामिल थे, जो खुद कोर्ट गए हैं और अब चुनाव की मांग कर रहे हैं. जबकि यूनिवर्सिटी कोर्ट जाने को ही ग्राउंड बनाकर अब स्टूडेंट्स से मुंह फेर चुके हैं और वह किसी तरह की बात करने से इनकार कर रहे हैं. जिम्मेदारों का कहना है कि जब छात्र खुद ही कोर्ट गए हैं, तो उन्हें प्रदर्शन का भी हक नहीं है. अब कोर्ट का जो फैसला होगा, उसी के हिसाब से आगे की कार्रवाई जाएगी.

पुलिस को भी लग गई भनक

गोरखपुर यूनिवर्सिटी में चुनाव की मांग को लेकर स्टूडेंट्स शनिवार को भी एकजुट हुए. वीसी को यूनिवर्सिटी कैंपस में हो रहे क्रीड़ा परिषद के समापन समारोह में शामिल होने के लिए जाना था. चीफ प्रॉक्टर भी मौके पर पहुंच गए. इस दौरान पहले विरोध की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स से उनकी और एसओ की बहस भी हुई. काफी देर तक स्टूडेंट्स विरोध करने पर अड़े रहे, लेकिन पुलिस ने हटने के लिए कहती रही.

वीसी का िकया घेराव

काफी देर तक जब छात्र नहीं मानें और कार्यक्रम में देर होने लगी, तो वीसी प्रो. वीके सिंह को सीओ कैंट अपने साथ लेकर कैंपस में पहुंचे. यहां स्टूडेंट्स ने पहले गेट पर ही गाड़ी रुकवा दी. इसके बाद पुलिस हरकत में आई और उन्हें पकड़-पकड़कर हटाने लगी. लेकिन छात्र एक तरफ से पकड़े जाते और फिर छुड़ाकर वह आगे की तरफ बढ़ जाते. करीब 10 मिनट तक यह सिलसिला जारी रहा. इसके बाद छात्र वीसी की गाड़ी के सामने बैठ गए. यहां पुलिस वालों ने उन्हें दबोच लिया और टांग-टांगकर किनारे किया. इसके बाद वीसी दूसरे रास्ते से क्रीड़ा परिषद के कार्यक्रम में पहुंचे. छात्र भी थोड़ा बहसो-तकरार के बाद वहां से चले गए.