राष्ट्रपति के आगमन से पहले इलाहाबाद विश्व विद्यालय में छात्रों का प्रदर्शन

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद आगामी 15 दिस6बर को इलाहाबाद आएंगे. उन्हें एमएनएनआईटी के दीक्षांत समारोह में शामिल होना है. लेकिन इससे पहले इलाहाबाद यूनिवर्सिटी में वाइस चांसलर प्रोफेसर आरएल हांगलू के 2िालाफ विरोध प्रदर्शन की शुरूआत हो गई है. इविवि के विजिटर रामनाथ कोविंद को इलाहाबाद यूनिवर्सिटी 5ाी आना था, लेकिन अचानक कार्यक्रम कैंसिल कर दिया गया. इससे आक्रोशित छात्रों ने बुधवार से छात्रसंघ 5ावन पर क्रमिक अनशन की शुरूआत की है.

दो कमेटियों ने सौंपी है रिपोर्ट

छात्रों का कहना है कि प्रो. गौतम देशी राजू की अगुवाई में यूजीसी की ए1सपर्ट कमेटी और अप्रैल में हास्टल मामले को लेकर हुये बवाल के बाद एमएचआरडी द्वारा गठित प्रो. जसपाल एस. संधु की फै1ट फाइंडिंग कमेटी विवि आयी. दोनों कमेटियों ने अपनी रिपोर्ट मंत्रालय को सौंप दी है. छात्रों के मुताबिक कमेटियों ने रिपोर्ट में वीसी की कार्यप्रणाली पर सवाल उठाये हैं. कॉलेजेस में हो रही शिक्षक 5ार्ती में धांधली हो रही है. छात्रावासों में अ5ाी छात्रों को पजेशन देने का काम पूरा नहीं हो सका है.

तानाशाही है वीसी का रवैया

अनशन में शामिल संदीप वर्मा ने कहा कि कुलपति का रवैया तानाशाही है. वे पद का दुरूपयोग कर रहे हैं. वीरेन्द्र सिंह चौहान का कहना है कि जब चार माह के लिये हास्टल दिया जा रहा है तो सत्र की बाकी फीस छात्रों को वापस की जाये. प्रदर्शन में आशुतोष पाठक, अविनाश, प्रशांत सिंह, रूद्र, अमर यादव, अंकुर सिंह आदि शामिल रहे.