-आरयू ने बीकॉम के सैकड़ों स्टूडेंट्स को कर दिया फेल, स्टूडेंटस ने वीसी का किया घेराव

-आरयू प्रशासन का फूंका पुतला, बिना फीस जमा करे दोबारा एग्जाम कराने की मांग

बरेली:

आरयू की गलती का खामियाजा सैकड़ों स्टूडेंट्स को फेल होकर चुकाना पड़ा। वेडनसडे को बीकॉम के जारी रिजल्ट में सैकड़ों स्टूडेंट्स को आरयू ने अब्सेंट दिखाकर फेल कर दिया था। थर्सडे को फेल हुए स्टूडेंट्स ने एबीवीपी कार्यकर्ताओं के साथ वीसी और परीक्षा नियंत्रक का घेराव किया। साथ ही आरयू प्रशासन के खिलाफ नारेबाजी कर पुतला फूंका। स्टूडेंट्स का कहना था कि ऑप्शनल सब्जेक्ट को भरने में गलती उनकी नहीं बल्कि आरयू की है। उन्हें फ्री में इम्प्रूवमेंट का एग्जाम देने दिया जाए। आरयू वीसी और नियंत्रक ने समझा-बुझाकर हंगामा कर स्टूडेंट्स को शांत कराया और समाधान निकालने का भरोसा दिया।

ऐसे हुई गलती

आरयू के बीकॉम स्टूडेंट्स में फेल हुए फाइनल ईयर के स्टूडेंट्स का कहना है कि जब एग्जाम फॉर्म फिल कर रहे थे तो सब्जेक्ट सिलेक्ट करते समय ग्रुप ए, बी और सी के पेपर सिलेक्ट कर रहे थे, लेकिन गु्रप डी का पेपर सिलेक्ट हो गया। जबकि उन्होंने ग्रुप ए का पेपर सिलेक्ट किया था। कई स्टूडेंट्स को ग्रुप के दो पेपर में से सिर्फ एक का ही पेपर देने को मिला। इससे सैकड़ों स्टूडेंट्स का पेपर छूट गया और आरयू ने मा‌र्क्सशीट में अब्सेंट लगाकर सभी स्टूडेंट्स को फेल कर दिया। इसी तरह अन्य स्टूडेंट्स भी अपनी समस्या लेकर पहुंचे थे, जिसमें किसी की मा‌र्क्सशीट में आरडी लगा दी थी। वह भी अपनी आरडी कटवाने के लिए चक्कर लगाने लगे।

फीस माफ करने की मांग

आरयू की खामी के विरोध में एबीवीपी के साथ पहुंचे स्टूडेंट्स ने परीक्षा नियंत्रक को ज्ञापन दिया। इसमें उन्होंने कहा कि जब गलती आरयू की है तो इंप्रूवमेंट की फीस स्टूडेंट्स क्यों देंगे। इसी को लेकर स्टूडेंट़्स और नियंत्रक में काफी देर तक वार्ता हुई। स्टूडेंट्स ने नियंत्रक संजीव कुमार सिंह और आरयू वीपी प्रो। अनिल शुक्ल का घेराव कर लिया। जिसके बाद वीसी प्रो। अनिल शुक्ल और परीक्षा नियंत्रक संजीव सिंह ने स्टूडेंट्स को समाधान निकालने की बात कहकर शांत कराया। इस दौरान स्टूडेंट्स ने आरयू प्रशासन का पुतला भी फूंका। जिला संगठन मंत्री राहुल चौहान, महानगर मंत्री गौरव यादव, हर्षित सिंह, उज्जवल ढाका, निहार त्यागी, योगेश पंडित, मनोज यादव, कमल गुप्ता, समीर तोमर और हर्षित अग्रवाल आदि रहे।

नंबर बढ़ाने पर हो कार्रवाई

आरयू में एबीवीपी कार्यकर्ताओं ने मांग रखी कि जो रैकेट आरयू की कॉपियों में नम्बर बढ़वाने की सेंिटंग को मामला निकला था उसमें क्या कार्रवाई हुई। हालांकि इस मामले में आरयू प्रशासन का कहना था कि मामले की जांच की जा रही है।

=============

-स्टूडेंट्स ने ज्ञापन दिया था, जिसे ले लिया गया है। उस पर अब विचार किया जाएगा। उसके बाद ही निर्णय लिया जाएगा।

संजीव कुमार सिंह, परीक्षा नियंत्रक