-शोर सुनकर परिजनों ने बुझाई आग, हालत गंभीर होने पर डॉक्टरों ने किया बरेली रेफर

BAREILLY :

मीरगंज के सिमरिया गांव में ट्यूजडे रात एक महिला ने अपने ऊपर मिट्टी का तेल छिड़ककर आग लगा ली. झुलसी महिला को मीरगंज सीएचसी में भर्ती कराया गया, लेकिन डॉक्टर्स ने गंभीर हालत देखते हुए बरेली रेफर कर दिया. परिजन प्राइवेट हॉस्पिटल ले गए जहां उपचार के दौरान रात में ही उसकी मौत हो गई. परिजनों ने बताया कि महिला के चार बच्चे हैं, जिसमें दो बेटी और दो बेटे हैं.

घरेलू कलह में दी जान

सिमरिया गांव निवासी तोताराम ने बताया कि वह खाना खाने के बाद सो गया था. रात 11 बजे करीब पत्नी मिथलेश 35 वर्ष ने बरामदे के अंदर अपने ऊपर मिट्टी का तेल छिड़क कर आग लगा ली. चीख सुनकर परिजन जब जागे तो मिथिलेश आग से पूरी तरह घिरी हुई थी. परिजनों ने किसी तरह आग बुझाई और उसे सीएचसी ले गए. जहां से डॉक्टर्स ने उसे बरेली रेफर कर दिया. परिजनों ने उसे निजी हॉस्पिटल में एडमिट कराया था जहां उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई. सूचना मिलते ही महिला के मायके वाले रामपुर थाना स्वार के गांव समोदिया निवासी दुर्जन सिंह परिजनों के साथ पहुंचे. उन्होंने घरेलू कलह के चलते जान देने का आरोप लगाया है. पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराने के बाद परिजनों को सौंप दिया.