आधिकारिक सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार एक आत्मघाती कार बम हमले ने सना के बाब अल-यमन जिले में स्थित एक इमारत के दरवाजों को उड़ा डाला. हमले के बाद परिसर में मौजूद संदिग्ध चरमपंथियों के साथ गोलीबारी की भी सूचना है.

अधिकारियों ने कहा कि स्थिति नियंत्रण में है और अधिकांश बंदूकधारी मारे गए हैं. यमन के सुरक्षा बल क्षेत्रीय विद्रोहियों और अल-कायदा से संघर्ष कर रहे हैं.

हालांकि अभी तक किसी भी समूह ने हमले की जिम्मेदारी नहीं ली है लेकिन संवाददाताओं का कहना है कि बंदूकधारियों ने अल-कायदा इन द अरेबियन पेनिनसुला (एक्यूएपी) के निशान पहन रखे थे.

समाचार एजेंसी रॉयटर्स ने रक्षा मंत्रालय के एक सूत्र के हवाले से बताया कि यह हमला मंत्रालय में रोज़मर्रा का कामकाज शुरू होने के कुछ घंटों के बाद ही हुआ. उस समय एक आत्मघाती हमलावर कार लेकर गेट के अंदर आ घुसा.

इस विस्फोट की आवाज कई किलोमीटर दूर तक सुनाई पड़ी.

काफी तेज विस्फोट

"विस्फोट काफी तेज था. इससे सारा इलाका थर्रा गया और इमारत में से धुआँ उठने लगा"
-हमले का एक प्रत्यक्षदर्शी

एक प्रत्यक्षदर्शा ने एजेंसी को बताया कि विस्फोट काफी तेज था. इससे सारा इलाका थर्रा गया और इमारत में से धुआँ उठने लगा.

अधिकारियों ने कहा कि इसके बाद एक दूसरी कार ने प्रवेश किया जिसमें सवार लोगों ने परिसर में अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी और इसके बाद सेना की वर्दी पहने बंदूधारियों ने गोलीबारी की.

अधिकारियों ने कहा कि अधिकतर बंदूकधारी मारे गए लेकिन यह स्पष्ट नहीं हो सका कि कुल कितने हमलावर थे.

पूरे इलाके को घेर लिया गया है और मारे गए लोगों को परिसर में बने अस्पताल में ले जाया गया है. अपुष्ट रिपोर्टों के अनुसार हमलावरों ने अस्पताल को भी निशाना बनाया था और इसका कुछ हिस्सा क्षतिग्रस्त हो गया.

राष्ट्रपति अब्दुल्लाह सालेह को वर्ष 2011 में अपदस्थ किए जाने के बाद से यमन काफी संकटपूर्ण दौर से गुजर रहा है.

International News inextlive from World News Desk