द्विपक्षीय संबंधों को अगले स्तर तक पहुंचाने की बात
जोहानिसबर्ग (पीटीआई)।
विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने दक्षिण अफ़्रीकी राष्ट्रपति सिरील रामाफोसा से मिलकर दोनों देशों के बीच जुड़ाव के साथ कौशल विकास, कृषि और सूचना प्रौद्योगिकी के क्षेत्रों में सहयोग बढ़ाने पर चर्चा की है। बता दें कि रविवार को सुषमा स्वराज ब्रिक्स (ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका) और आईबीएसए (भारत, ब्राजील, दक्षिण अफ्रीका) देशों की बैठकों में हिस्सा लेने के लिए पांच दिनों की यात्रा पर दक्षिण अफ्रीका पहुंची। विदेश मंत्रालय के एक बयान के मुताबिक, स्वराज ने रामाफोसा से मुलाकात की, उस दौरान उन्होंने लंदन में राष्ट्रमंडल शिखर सम्मेलन में प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी के साथ अपनी बैठक को याद किया और द्विपक्षीय संबंधों को अगले स्तर तक पहुंचाने की बात कही।

चार जून को होगी बैठक
स्वराज ने वहां के राष्ट्रपति कार्यालय में कहा कि वर्ष 2018 भारत और दक्षिण अफ्रीका दोनों के लिए विशेष महत्व रखता है क्योंकि इसी साल दोनों राजनयिक संबंधों की 25वीं वर्षगांठ, प्रतिष्ठित नेता नेल्सन मंडेला की 100वीं जयंती और महात्मा गांधी की पीटर मैरिट्जबर्ग घटना की 125वीं वर्षगांठ मनाई जा रही है। बता दें कि दक्षिण अफ्रीका में ब्रिक्स की विदेश मंत्री स्तर की बैठक 4 जून को होगी, जबकि तीन देशों के समूह आइबीएसए में वैश्विक मुद्दों पर तालमेल को और बढ़ाया जाएगा।

युवा शिखर सम्मेलन में भी भाग लेंगी
विदेश मंत्रलय के मुताबिक, 6 जून को वह फीनिक्स जाएंगी जहां महात्मा गांधी ने अहिंसा की अपनी विचारधारा को आगे बढ़ाया। युवाओं के एक कार्यक्रम में वह ओलिवर तांबो और दीनदयाल उपाध्याय पर एक डाक टिकट भी जारी करेंगी। तांबो दक्षिण अफ्रीका के क्रांतिकारी नेता थे। इसके बाद स्वराज वहां आयोजित एक युवा शिखर सम्मेलन में भी भाग लेंगी जहां दक्षिण अफ्रीका के 20 युवा और भारत के पांच युवा गांधी दर्शन की प्रासंगिकता पर बात करेंगे।

14 मिनट तक लापता रहा सुषमा स्वराज का विमान, दिल्ली से मॉरीशस तक मचा हड़कंप

सुषमा स्‍वराज ने ट्वि‍टर पर पहले ज‍िस स्‍टूडेंट की मदद से इंकार क‍िया फ‍िर उसी की तारीफ की, जानें उसने ऐसा क्‍या क‍िया

International News inextlive from World News Desk