-बारिश रुकने के बाद अब अचानक बढ़ने लगे बुखार के मरीज

-हॉस्पिटल में बुखार वार्ड के सभी बेड फुल एक बेड पर दो-दो मरीज

BAREILLY :

शहर में हो रही लगातार बारिश के बाद अब बुखार के मरीजों की संख्या बढ़ने लगी है. बुखार के मरीजों की भीड़ निजी और सरकारी हॉस्पिटल में भी दिखाई दे रही है. डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में एक बेड पर दो-दो मरीज को रखने की नौबत आ गई है. हॉस्पिटल पहुंचने वाले वाले बुखार के हर मरीज की जांच अब डॉ. डेंगू के चश्मे से कर रहे हैं. डॉक्टर्स बुखार के मरीज को सबसे पहले सीबीसी 'कम्प्लीट ब्लड काउंट' जांच करवा रहे है. जिससे डेंगू होने का पता चल सके. डॉक्टर्स सीबीसी के अलावा बीडॉल टेस्ट, मलेरिया और वायरल आदि की भी जांच कर रहे हैं. इसके बाद डॉक्टर्स दवा शुरू करते हैं. तब तक वह एंटीबायोटिक दवा से ही काम चलाते हैं.

एक बेड पर दो मरीज

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में इमरजेंसी के ग्राउंड फ्लोर के वार्ड को छोड़ दें, तो फ‌र्स्ट फ्लोर पर बने वार्ड में स्थिति यह है कि एक बेड पर दो मरीज भर्ती किए जा रहे हैं. जिसके चलते मरीजों में इंफेक्शन की संभावना भी बढ़ गई है, जो मरीज सक्षम हैं वह निजी अस्पताल को रुख कर रहे हैं.

दवा देकर लौटा रहे मरीजों को

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल में बेड की संख्या कम पड़ने की वजह से इमरजेंसी के डॉक्टर मरीजों को दवा देकर वापस कर दे रहे हैं. उन्हीं मरीजों को ही एडमिट कर रहे हैं, जिनकी हालत बेहद नाजुक है.

300 से अधिक जांच डेली

डिस्ट्रिक्ट हॉस्पिटल की ओपीडी में इस समय औसतन 2 हजार से अधिक मरीज डेली पहुंच रहे हैं. जिसमें से बुखार के सबसे अधिक मरीज होते हैं. बुखार का नाम सुनते ही डॉक्टर उनका सबसे पहले सीबीसी टेस्ट कराते हैं. ताकि बुखार की सही स्थित की जानकारी लग सके और उसे उचित इलाज मिल सके.

-ओपीडी में 30 प्रतिशत मरीज बुखार के बढ़ गए हैं. इन मरीजों का इलाज डेंगू को ध्यान में रखकर किया जा रहा है. उनकी सीबीसी जांच कराई जा रही है. ताकि प्लेटलेट्स की भी जानकारी मिल सके. यदि किसी पेशेंट में प्लेटलेट्स कम मिलता है, तो लक्षण देखकर डेंगू की जांच जरूर करायी जाती है.

डॉ. अजय मोहन अग्रवाल, िफजिशियन

बुखार के मरीजों को कोई प्रॉब्लम न हो इसके लिए हेल्प डेस्क बना दी है. बुखार के मरीज बढ़े हैं. अचानक मरीज आ जाए और उसे एडमिट करना पड़े तो एक बेड पर दो मरीज लिटा दिए होंगे. बेड खाली होते ही उसे अलग बेड दिया जाता है.

केएस गुप्ता, सीएमएस डिस्ट्रिक्ट हाॅस्पिटल बरेली