-मजिस्ट्रेट से नहीं मिली है परमिशन, भारी फोर्स तैनात

-बिथरी चैनपुर पुलिस ने 1700 लोगों को मुचलके से किया पाबंद

BAREILLY: मोहर्रम के दौरान ताजियों को लेकर विवाद सामने आने लगे हैं. डीएम-एसएसपी स्वयं तहसील स्तर पर मीटिंग कर रहे हैं. डीएम के स्पष्ट निर्देश हैं, कि कोई भी विवाद नहीं होने दिया जाएगा और नई परम्परा भी नहीं डालने दी जाएगी. फ्राइडे को किला के स्वालेनगर में भी ताजिया निकालने को लेकर तनाव हो गया. कई वर्षो से ताजिया न निकलने पर मजिस्ट्रेट ने परमिशन देने से इनकार कर दिया, लेकिन इसके बावजूद ताजिया को सजाया गया. जिसके चलते सुबह से ही फोर्स तैनात कर दी गई है. वहीं बिथरी चैनपुर पुलिस ने विवाद को देखते हुए थाना एरिया के अलग-अलग गांवों के 1700 लोगों को मुचलके से पाबंद किया है.

वर्ष 2010 से नहीं निकला ताजिया

इंस्पेक्टर धर्मेद्र गुप्ता के मुताबिक स्वालेनगर में पहले ताजिया निकलता था. वर्ष 2010 में रास्ते में एक्सीडेंट की वजह से ताजिया क्षतिग्रस्त हो गया था. जिसके चलते अगले वर्ष ताजिया नहीं निकल सका था. इस बार ताजिया निकालने के लिए मजिस्ट्रेट से परमिशन मांगी गई लेकिन 8 वर्षो से ताजिया न निकलने के चलते परमिशन नहीं दी गई. फ्राइडे को लोगों ने ताजिया को सजा दिया, कि तभी चर्चा फैल गई कि ताजिया निकाला जा रहा है. पुलिस के पास सूचनाएं पहुंची तो एहतियातन फोर्स तैनात कर दी गई.

-----------------------

गुंडा और 110 जी में भी सख्ती

कांवड़ यात्रा के दौरान बिथरी चैनपुर थाना एरिया में जमकर विवाद हुआ था. खजुरिया के कांवडि़यों के दो बार उमरिया से न निकलने देने को लेकर विवाद हुआ था. विधायक पप्पू भरतौल भी कांवडि़यों के पक्ष में खड़े हो गए थे, लेकिन कांवड़ नहीं निकली थी. इसी तरह कासी गांव में भी कांवड़ यात्रा का विरोध हुआ था. अब बिथरी चैनपुर के अलग-अलग गांव से ताजिये निकलेंगे और ताजिया उमरिया के कर्बला तक जाएंगे. कांवड़ यात्रा के दौरान ही लोगों ने साफ कह दिया था कि ताजिया निकलने का विरोध किया जाएगा. उमरिया में ताजिये 21 सितंबर को पहुंचेंगे . जिसके चलते पुलिस-प्रशासन ने पहले से ही तैयारी शुरू कर दी है. बिथरी चैनपुर पुलिस ने खजुरिया, उमरिया, कासी, बिथरी चैनपुर, उड़ला जागीर, सैदपुर कुर्मियान व अन्य गांवों के 1700 लोगों को मुचलके से पाबंद किया है. इसके अलावा बिथरी चैनपुर के प्रधान साहिद समेत 19 के खिलाफ गुंडा एक्ट और 75 लोगों के खिलाफ 110 जी की कार्रवाई की है.

-----------------------

नवाबगंज और फरीदपुर तहसील में डीएम-एसएसपी

फ्राइडे को भी डीएम वीरेंद्र कुमार सिंह और एसएसपी मुनिराज जी का तहसीलों में दौरा जारी रहा. फ्राइडे को डीएम ने आंवला और मीरगंज तहसील में मीटिंग की. डीएम-एसएसपी ने दोनों तहसीलों के थानों में ताजियों के विवाद को निपटाने और नई परम्परा न डालने के सख्त निर्देश दिए हैं. डीएम ने साफ कहा कि किसी तरह का विवाद बर्दाश्त नहीं किया जाएगा और लापरवाही बरतने वालों पर एक्शन लिया जाएगा. थर्सडे को डीएम-एसएसपी ने नवाबगंज और बहेड़ी तहसील में पुलिसकर्मियों की मीटिंग कर समीक्षा की थी.