- चार गुर्गो को पहले ही एसटीएफ ने दबोच लिया था

- शिवकुटी पुलिस के सहयोग से क्राइम ब्रांच ने पकड़ा

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: पंचायत चुनाव की नजदीक आते ही नकली नोटों के सौदागरों के सक्रिय होने के साथ ही अवैध हथियारों की डिमांड भी बढ़ गई है. सुरक्षा एजेंसियां उनके नेक्सस को तोड़ने में जुटी हुई हैं. एसटीएफ ने नकली नोटों के सौदागर अच्छे लाल उर्फ बच्चा चौरसिया को दबोचा तो रविवार रात ही क्राइम ब्रांच ने शिवकुटी एरिया से तमंचा गिरोह के सरगना फैयाज अहमद उर्फ हाफिज को धर लिया. उसके पास से 11 तमंचे, पिस्टल व रिवाल्वर बरामद हुए हैं. इसी गिरोह के चार सदस्यों को एसटीएफ ने 26 अगस्त को धूमनगंज एरिया से अरेस्ट किया था.

चुनाव में डिमांड बढ़ी

पंचायत चुनाव के लिए फैयाज अवैध हथियार की सप्लाई कर रहा था. वह मुंगेर व खंडवा से तमंचे, पिस्टल लाता था और ऊंचे दाम पर इलाहाबाद में बेचता था. मोहम्मदपुर बाराबंकी का फैयाज, प्रतापगढ़ के हजरत अली उर्फ नाहिद, राशिद अली, अमेठी के आशुतोष और शाहगंज जौनपुर के मो. अहमद की मदद से सप्लाई करवाता था. चारों को एसटीएफ ने 26 अगस्त को अरेस्ट कर लिया था. पंचायत चुनाव के नजदीक आते ही असलहों की डिमांड बढ़ी तो सप्लाई में भी तेजी आ गई. असलहों की आवाजाही बढ़ी तो पुलिस भी सतर्क हो गई थी. फैयाज तब बचने में सफल रहा था. रविवार को क्राइम ब्रांच को खबर मिली कि फैयाज बाइक से किसी को तमंचे देने के लिए तेलियरगंज बैरियर पर पहुंचने वाला है.

पुलिस ने की घेराबंदी

सूचना मिलते ही क्राइम ब्रांच के इंचार्ज वीके सिंह, जेपी राय, एसओ शिवकुटी प्रदीप कुमार राय व अन्य ने तेलियरगंज बैरियर पर रविवार रात घेराबंदी की. लगभग साढ़े दस बजे फैयाज बाइक से आता दिखाई दिया. पुलिस ने उसके बैग की तलाशी ली तो उसमें असलहे मिले. एसपी क्राइम रमाकांत प्रसाद ने सोमवार को फैयाज को पुलिस लाइन में मीडिया के सामने पेश किया. एसपी ने बताया कि फैयाज को वाहन चोरी के मामले में पहले भी अरेस्ट हो चुका है. बाद में उसने बाइक चोरी की जगह तमंचा का कारोबार शुरू कर दिया था.

वेस्ट यूपी में भी नेटवर्क

फैयाज का नेटवर्क वेस्ट यूपी के मुरादाबाद, संभल में भी है. वह गैंग लीडर सुहल तक भी असलहे पहुंचाता था. सुहल इस वक्त नैनी जेल में बंद है. फैयाज पहले स्लॉटर हाउस से हड्डियों को कलेक्ट कर खाद कंपनियों तक पहुंचाता था. वह दिखावे के लिए अब भी यह काम करता है. एसएसपी केएन इमेनुएल ने गिरफ्तारी करने वाली टीम को ईनाम की घोषणा की है.

बरामदगी

- पांच तमंचा 312 बोर

- दो पिस्टल 12 बोर

- दो रिवाल्वर

- दो तमंचा 315 बोर

- दो कारतूस 315 बोर

- दो कारतूस 32 बोर