ह्मड्डठ्ठष्द्धद्ब : राजधानी को पानी की समस्या से निजात दिलाने के लिये पेयजल एवं स्वच्छता विभाग ने तैयारी कर ली है. राजधानी में फेज वन के लिये अटल नवीकरण एवं शहरी परिवर्तन मिशन के तहत (अमृत योजना) 62 हजार से ज्यादा घरों में टैप वाटर उपलब्ध कराया जाएगा. इसके लिये डीपीआर को तकनीकी स्वीकृति के साथ साथ कैबिनेट की हरी झंडी भी मिल चुकी है. प्रस्तावित परियोजना में 2050 की योजना के अनुसार नेटवर्क तैयार किया गया है जिसमें जलापूर्ति व्यवस्था के तहत 248 एमएलडी क्षमता के वाटर ट्रीटमेंट प्लांस का उपयोग किया जाएगा. मालूम हो कि रांची जलापूर्ति फेज वन के अन्तर्गत कुल 14 प्रस्तावित क्षेत्रों में करीब 75 हजार 897 घरों के विरूद्ध 13 हजार 699 घरों में ही जलापूर्ति का कनेक्शन है.

जगह चिन्हित, टेंडर जारी

फ‌र्स्ट फेज में किशोरगंज संस्कृत विवि का क्षेत्र, हिन्दपीढ़ी का क्षेत्र, रातू रोड के मधुकम और न्यू मधुकम क्षेत्र में पाइपलाइन बिछाया जाएगा. इसके लिए जगह भी चिन्हित कर ली गई है और जु़डको ने टेंडर भी जारी कर दिया है. इस योजना के तहत काम करने वाली कंपनी को ही अगले पांच सालों तक रख रखाव करना होगा.

कहां-कहां बिछेगी पाइपलाइन

-किशोरगंज संस्कृत विवि का क्षेत्र

-हिंदपीढ़ी का क्षेत्र

-रातू रोड के इलाके

-मधुकम और न्यू मधुकम क्षेत्र