शासन ने कम किया ओडीएफ का टारगेट

2050 शौचालय लक्ष्य हुआ निर्धारित

Meerut . स्वच्छता सर्वेक्षण में अब तक मेरठ नगर निगम की सबसे महत्वपूर्ण उम्मीद बने हुए ओडीएफ मानक पर अब नगर निगम शत प्रतिशत दावा प्रस्तुत कर सकता है. नगर निगम मेरठ के लक्ष्य को अब मुख्यालय ने 18971 से घटाकर 12050 कर दिया है. इससे निगम को काफी राहत मिली है और निगम अब शत प्रतिशत ओडीएफ का दावा कर रहा है.

कम हो गया लक्ष्य

दरअसल स्वच्छता सर्वेक्षण में कूड़ा निस्तारण के बाद ओडीएफ सर्वेक्षण का महत्वपूर्ण मानक है. इन मानक को पूरा करने के लिए मेरठ को 18974 शौचायल का लक्ष्य मिला हुआ था. लेकिन इसके सापेक्ष निगम को अभी तक केवल 12371 आवेदन ही प्राप्त हुए थे. अब निगम के लिए अगले दो माह में 6 हजार से अधिक आवेदन एकत्र कर टॉयलेटस बनाना टेढी खीर बना हुआ है. ऐसे में सोमवार को लखनऊ पहुंची नगर निगम के आला अधिकारियों की मांग पर मुख्यालय द्वारा मेरठ नगर निगम के टारगेट को 6924 कम कर 12050 शौचालय बनाने का लक्ष्य दिया है.

अपलोड होंगे फोटो

निगम द्वारा यह लक्ष्य लगभग 90 प्रतिशत पूरा किया जा चुका है. अब निगम आवेदनों के अनुरुप शौचालय का निर्माण पूरा कर उनकी फोटो निगम की वेबसाइट पर अपलोड का काम शुरु करने जा रहा है. ताकि लोग पूरा सत्यापन कर ओडीएफ के लिए अच्छी रेटिंग निगम को दें.

ओडीएफ का लक्ष्य लगभग हम पूरा कर चुके हैं. अब हम टॉप फाइव के दावेदार हैं और जल्द से जल्द अपनी दावेदारी को मजबूत कर देंगे.

- मनोज त्रिपाठी, नोडल अधिकारी