ग्रीनसाल बनाएगी ट्रेंडी चप्‍प्‍लें और सैंडल
जमशेदपुर (प्रेट्र)।
टाटा स्‍टील के ओर, माइंस एंड क्‍वेरी (ओएमक्‍यू) डिविजन के जनरल मैनेजर पंकज कुमार सतीजा ने कहा कि पश्चिमी सिंहभूमि के नाओमुंडी में स्‍टार्ट-अप कंपनी ग्रीनसाल जूतों को री-साइकिल करके ट्रेंडी स्‍लीपर्स और सैंडल बनाएगी। टाटा स्‍टील ने यह परियोजना समाज के जरूरतमंद तबके को ध्‍यान में रखकर तैयार किया है। यह प्रोजेक्‍ट नाओमुंडी के इलाके में चलाया जाएगा।
टाटा पहनाएगी गरीबों को जूते,टाटा स्‍टील शुरू करेगी शू री-साइकिल प्रोजेक्‍ट ग्रीनसोल
(स्‍टील सिटी जमशेदपुर में लिटिल फ्लावर स्‍कूल के छात्रों से उनके बनाए एक प्रोजेक्‍ट पर बात करते रतन टाटा, फाइल फोटो : प्रेट्र)

अगले महीने से शुरू होगा री-साइकिल
सतीजा ने कहा कि टाटा स्‍टील ने स्‍टार्ट-अप कंपनी को जूते री-साइकिल करने के लिए साथ लिया है। तैयारी पूरी है और अगले महीने से यह काम शुरू हो जाएगा। लोगों को नंगे पैर चलते देख यह परियोजना शुरू करने का आइडिया आया। समाज के ऐसे वंचित लोग जो अपने लिए जूते-चप्‍पल तक अफोर्ड नहीं कर सकते, उन गरीब लोगों के लिए यह प्रोजेक्‍ट है।
टाटा पहनाएगी गरीबों को जूते,टाटा स्‍टील शुरू करेगी शू री-साइकिल प्रोजेक्‍ट ग्रीनसोल
(जमशेदपुर में टाटा स्‍टील का प्‍लांट, फाइल फोटो : एएफपी)

पूर्वी भारत में अपनी तरह का पहला
सतीजा ने कहा कि पूर्वी भारत में यह प्रोजेक्‍ट अपनी तरह का पहला है। परियोजना का उद्देश्‍य समाज के वंचितों को ध्‍यान में रखकर तैयार किया गया है। प्रोजेक्‍ट के तहत अच्‍छी हालत वाले पुराने जूतों को नया और ट्रेंडी लुक दिया जाएगा। परियोजना की क्षमता के बारे में पूछे एक सवाल के जवाब में सतीजा ने बताया कि यह पुराने जूतों के कलेक्‍श्‍न पर निर्भर करेगा।
टाटा पहनाएगी गरीबों को जूते,टाटा स्‍टील शुरू करेगी शू री-साइकिल प्रोजेक्‍ट ग्रीनसोल
(संस्‍थापक जमशेदजी नौशेरवानजी टाटा की 176वीं जयंती पर स्‍टील सिटी जमशेदपुर में टाटा स्‍टील के कर्मचारी एक झांकी के साथ, फाइल फोटो : प्रेट्र)

Business News inextlive from Business News Desk