-मीरगंज के गांव गूला में नकाबपोश बदमाशों ने सुबह 8:45 बजे दिया वारदात को अंजाम

-बाइक सवार तीन बदमाशों ने शिक्षिका से नकदी गहने लूटने के बाद कमरे में कर गए बंद

<द्गठ्ठद्द>क्चन्क्त्रश्वढ्ढरुरुङ्घ<द्गठ्ठद्दद्गठ्ठस्त्र> :

शहर से देहात के स्कूल जा रही महिला टीचर्स की सुरक्षा को लेकर बड़ा सवाल 2ाड़ा हो गया है. मीरगंज के गूला गांव में स्कूल 2ाोल रही शिक्षिका से बदमाशों ने ट्यूजडे सुबह लूट की वारदात को अंजाम दे डाला. बाइक सवार नकाबपोश बदमाशों ने शिक्षिका को लूटने के बाद कमरे में बंद कर दिया और फरार हो गए. शिक्षिका ने किसी तरह गेट को 2ाोला और बाहर निकली और शोर मचाया, लेकिन किसी ने मदद नहीं की. कुछ देर स्कूल में अन्य शिक्षक 5ाी पहुंचे तो महिला शिक्षिका ने अपने साथ हुई वारदात की जानकारी दी. सूचना मिलते ही यूपी 100 पुलिस मौके पर पहुंची, लेकिन लुटेरों को कोई सुराग नहीं लगा. पीडि़ता की तहरीर पर पुलिस ने कार्रवाई शुरू कर दी है.

सुबह 8:45 बजे की वारदात

इज्जतनगर थाना क्षेत्र के शास्त्री नगर निवासी अनीता स1सेना ने बताया कि वह डेली सुबह 8:45 बजे किराए की की वैन से मीरगंज के गांव गूला जूनियर हाईस्कूल में पहुंची थी. वह गूला स्कूल में सहायक अध्यापक के पद पर कार्यरत हैं. सुबह को वह जैसे ही स्कूल पहुंची तो कमरा 2ाोलकर मेज पर बाहर बैग र2ाकर अंदर कमरे में गई थी. इसी बीच एक बाइक पर सवार तीन बदमाशों ने कमरे में उन्हें धक्का दे दिया. जैसे ही वह जमीन पर गिरी एक बदमाश ने उनकी गले की चेन, अंगूठी और कुंडल जबकि बाहर 2ाड़े बदमाश ने उनका बैग क4जे में ले लिया. लूट की वारदात को अंजाम देने के बाद बदमाश फरार हो गए. शिक्षिका ने बताया कि बैग में 8 सौ रुपए नकदी, मोबाइल, बैंक के एटीएम, तीन पास बुक और जरूरी कागजात थे. जिसे बदमाश लूट ले गए.

शिक्षिका को कमरे में बंद कर फरार

वारदात की जानकारी देते हुए अनीता स1सेना ने बताया कि बदमाशों ने वारदात को अंजाम देने के बाद उन्हें कमरे में बंद कर बाहर से कंडी लगा दी. बदमाशों के जाने के बाद किसी तरह उन्होंने किवाड़ को झकझोर कर कुड़ी को 2ाोलने के बाद लोगो से मदद मांगी, लेकिन किसी ने नहीं सुनी. कुछ देर बाद स्टॉफ के अन्य शिक्षक 5ाी पहुंचे तो उन्हें वारदात की जानकारी दी, जिसके बाद आफिस स्टॉफ ने यूपी 100 को सूचना दी.

10 मिनट में वारदात

अनीता स1सेना ने बताया कि बदमाश करीब 10 मिनट ही स्कूल में रूके और वारदात को अंजाम देने के बाद एक ही बाइक से फरार हो गए. लेकिन इस दौरान किसी ने उनकी मदद नहीं की. लूटपाट के दौरान शिक्षिका ने जब विरोध किया, तो जान से मारने की धमकी दे डाली.

-मैं 5ादपुरा 4लॉक के जासपुर में प्रधानाध्यापिका हूं. मेरे साथ 5ाी 26 अप्रैल 2017 को 16 हजार की लूट इज्जतनगर थाना क्षेत्र में हुई थी. पुलिस ने किसी तरह मामला तो दर्ज कर लिया लेकिन अ5ाी तक 2ाुलासा नहीं कर पाई.

अल्पना गुप्ता, प्रधानाध्यापिका जासपुर प्राथमिक विद्यालय

-----

शिक्षिकाओं के साथ बढ़ती वारदातों से वह असुरक्षित महसूस कर रही है. वि5ाग वारदात के बाद कोई जि6मेदारी नहीं लेता है.वारदात को रोकने के लिए प्रत्येक विद्यालय में दो कॉन्स्टेबल तैनात किए जाएं.

नरेश गंगवार, जिलाध्यक्ष प्राथमिक शिक्षक संघ

------------------

शिक्षिका के साथ हुई लूट की वारदात वि5ागीय अधिकारियों एंव पुलिस प्रशासन की लापरवाही का नतीजा है.पहले 5ाी अल्पना गुप्ता के साथ लूट की वारदात हो चुकी है. पुलिस गं5ाीरता से लेती तो दूसरी वारदात नहीं होती.

हरेन्द्र सिंह,'रानू' जिला महामंत्री उप्र. प्राथमिक शिक्षक संघ

-------

शिक्षिका की तहरीर पर बदमाशों के 2िालाफ एफआईआर दर्ज कर ली है. लुटेरों की तलाश के लिए टीमें लगा दी गई हैं. वारदात को अंजाम देने वाले जल्द ही पुलिस गिर3त में होगें.

जोगेन्द्र कुमार, एसएसपी