अमेरिका की ड्रेक्सेल यूनिवर्सिटी के शोधकर्ताओं ने उच्च सुचालक क्षमता वाले पदार्थ एमएक्सईएनई की मदद से खास इलेक्ट्रोड तैयार किए हैं। इन इलेक्ट्रोड की मदद से बैटरी को बेहद तेजी से चार्ज करना संभव हो सकता है। यह उसी सिद्धांत पर काम करता है, जिसके जरिये कैमरा फ्लैश के समय ऊर्जा प्रवाह होता है।

अब तो पलक झपकते ही चार्ज हो जाएगा आपका स्मार्टफोन!

व्‍हॉट्सएप पर सिर्फ चैटिंग ही नहीं, भेज सकते हैं पैसे भी

प्रोफेसर यूरी गोगोत्सी ने कहा, 'हमने इस धारणा को गलत साबित किया है कि रासायनिक बैटरियां धीमी होती हैं। हमने एमएक्सईएनई की मदद से सेकेंड के हजारवें हिस्से में बैटरी को चार्ज करने में सफलता हासिल की।’  वैज्ञानिकों ने कहा कि इन इलेक्ट्रोड की मदद से ऐसी बैटरियां बनानी संभव होंगी, जिन्हें पल भर में चार्ज या डिस्चार्ज करना संभव होगा।

बिना बैटरी के चलेगा यह मोबाइल फोन, भारतीय वैज्ञानिक ने की अनोखी खोज

Technology News inextlive from Technology News Desk

Technology News inextlive from Technology News Desk