-डबल मर्डर समेत तीन बड़े कांडों का हुआ भंडाफोड़ा

श्चड्डह्लठ्ठड्ड@द्बठ्ठद्ग3ह्ल.ष्श्र.द्बठ्ठ

न्क्त्रन्/क्कन्ञ्जहृन्: भोजपुर पुलिस ने करीब 18 अवैध हथियार और 365 कारतूस के साथ अंतरजिला गिरोह से जुड़े दस अपराधियों को गिरफ्तार किया है. इसमें दो महिलाएं भी है. बरामद हथियारों में करीब 7.65 एमएम का 13 पिस्तौल, चार देसी कट्टा और एक डबल बैरल का बंदूक है. गिरफ्तार अपराधियों ने आरा रेलवे स्टेशन पर चार महीने पहले घटित डबल मर्डर समेत तीन बड़े कांडों में अपनी संलिप्तता स्वीकार की है. इसकी जानकारी भोजपुर एसपी अवकाश कुमार ने शनिवार को प्रेस कांफ्रेस में दी. उन्होंने तीनों बड़े कांडों के भंडाफोड़ का दावा किया है.

एसपी ने बताया कि अपराधियों के पास से पुलिस ने घटना में प्रयुक्त दो बाइक समेत 15 हजार रुपए कैश भी बरामद किया गया है. गिरफ्तार किए गए अपराधियों में नवादा थाना क्षेत्र का अनाईठ निवासी अजय कुमार उर्फ राजा, दीपक कुशवाहा उर्फ केडी कुशवाहा, चंदन कुमार, पहरपुर निवासी अविनाश पांडेय, विशम्भरपुर निवासी रविरंजन पांडेय, कमरिया गांव निवासी राज सिंह उर्फ राज कपूर सिंह की पत्नी अनु देवी, सहंगी निवासी गुड्डू महतो, उसकी पत्नी कंचन देवी, राम ईश्वर महतो एवं असधन मठिया निवासी सुजीत गिरी शामिल है. आरा रेलवे स्टेशन घटित दोहरा हत्याकांड में सुपारी कि¨लग का मामला उजागर हुआ है. पुलिस ने अनाइठ निवासी ललित सिंह के पुत्र अजय कुमार उर्फ राजा को गिरफ्तार किया है. राजा ने बताया कि धरहरा निवासी कुख्यात नईम मियां कहने पर घटना को अंजाम दिया गया था.

पांच अपराधियों ने मिलकर की थी सोना व्यवसायी की हत्या

पकड़े गए अपराधी अजय कुमार उर्फ राजा ने पुलिस को बताया कि उसने पांच साथियों के साथ मिलकर नवादा थाना के अनाइठ पोस्ट ऑफिस के पास लूटपाट करने की नीयत से कॉपरेटिव कॉलोनी निवासी सोना व्यवसायी बंधुओं रवि रंजन गुप्ता एवं त्रिभुवन गप्ता को गोली मारी थी, जिसमें रवि रंजन गुप्ता की मौत हो गई थी. इस घटना में में इमादपुर थाना के विशम्भरपुर निवासी रवि रंजन कुमार, बक्सर जिले के नावानगर थाना अंतर्गत ईटवाडीह निवासी चंदन कुमार, बिहिया थाना क्षेत्र का पहरपुर गांव निवासी अविनाश कुमार पांडेय एवं नवादा थाना क्षेत्र का अनाईठ मुहल्ला निवासी प्रीतम उर्फ मुगल शामिल थे. जिसमें चार को गिरफ्तार कर लिया गया है. सनद हो कि 24 जुलाई को दोनों सगे भाइयों को गोली मारी गई थी.