मेरठ में 11 और 12 अगस्त को होगी भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की बैठक

सीएम योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा को लेकर खुफिया एजेंसियों ने जताई आशंका

कुछ कश्मीरी युवकों के लखनऊ पहुंचने की सूचना के बाद सक्रिय हुआ सिस्टम

जेड प्लस श्रेणी की रहेगी सुरक्षा, 10 घेरों के साथ बुलेटप्रूफ कार में रहेंगे मुख्यमंत्री

Meerut. मेरठ में 11 और 12 अगस्त को प्रस्तावित भारतीय जनता पार्टी की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक पर आतंकी खतरा मंडरा रहा है. सीएम योगी आदित्यनाथ की सुरक्षा को लेकर खुफिया एजेंसियां चितिंत हैं तो वहीं एसपी (सीएम सिक्योरिटी) द्वारा मेरठ और अलीगढ़ के डीएम को सुरक्षा व्यवस्थाएं दुरुस्त करने के लिए कहा गया है. दो दिवसीय कार्यसमिति की बैठक को लेकर वेस्ट यूपी में अलर्ट जारी कर दिया गया है. खुफिया एजेंसियों ने कश्मीरी युवकों को लेकर आतंकी वारदात की आशंका जताई है.

सिक्योरिटी को लेकर हाई अलर्ट

11 अगस्त को अलीगढ़ और 11/12 अगस्त को मेरठ में सीएम योगी आदित्यनाथ के प्रवास के दौरान खुफिया एजेंसियों ने वेस्ट यूपी में हाई अलर्ट जारी कर दिया है. सीएम सिक्योरिटी से मिले इनपुट के मुताबिक यूपी विधानसभा चुनाव 2017 के बाद सीएम योगी आदित्यनाथ देश-विदेश में काफी चर्चित हुए हैं. केंद्रीय खुफिया एजेंसी का दावा है कि इसके बाद वह कट्टरपंथियों, आईएसआई समर्थकों, अराजकतत्वों, ह्यूमन बम के निशाने पर हैं. वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों को मिले इनपुट की जानकारी देते हुए बताया कि लंदन में रह रहे कुछ कश्मीरी युवक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ को टारगेट कर रहे हैं. जम्मू-कश्मीर से कश्मीरी युवकों के कुछ छोटे-छोटे गु्रप ट्रेन से लखनऊ पहुंच रहे हैं. ऐसे इनपुट भी शीर्ष खुफिया एजेंसी ने ि1दए हैं.

जैश-ए-मोहम्मद से किया आगाह

खुफिया एजेंसियों ने यूपी पुलिस को पाकिस्तानी आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से आगाह किया है. गत दिनों आतंकी संगठन द्वारा पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ को लेकर जारी टेप का हवाला खुफिया इनपुट में दिया गया है. वहीं, मेरठ दौरे को लेकर सघन सुरक्षा व्यवस्था के निर्देश सीएम कार्यालय की ओर से जारी किए गए हैं. इतना ही नहीं सीएम कार्यालय ने जिला प्रशासन को निर्देश दिए हैं कि वे सुरक्षा कारणों के मद्देनजर आयोजन स्थल और परिसर में उन्हीं लोगों को प्रवेश दें, जो आवश्यक हैं. वाहन पास का मिसयूज भी न हाेने पाए.

बुलेटपू्रफ कार में रहेंगे सीएम

सीएम की सिक्योरिटी को लेकर 23 बिंदुओं पर सिक्योरिटी अरेंजमेंट के निर्देश सीएम कार्यालय ने जिला प्रशासन को दिए हैं. शीर्ष खुफिया एजेंसियों के अलावा सुरक्षा एजेंसियां भी इस दौरान मौजूद रहेंगी. सीएम का काफिला हवाई पट्टी से दस लेयर के सिक्योरिटी सेल के साथ गुजरेगा. सीएम की बुलेट प्रूफ कार के अलावा पायलट कार, जैमर कार, फ्रंट स्कार्ट ऑफ एनएसजी कमांडो, रेयर स्कार्ट ऑफ एनएसजी कमांडो, रिंग टीम, वीआईपी कार, पार्टी कार फॉर पर्सनल स्टाफ, एंबुलेंस आदि काफिले में शामिल होंगे. भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह और केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की सुरक्षा भी मेरठ प्रवास के दौरान जेड प्लस श्रेणी की होगी.

हर मंत्री की आगवानी को तैनात अफसर

भाजपा की प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में यूपी सरकार के 33 कैबिनेट/राज्य मंत्री और केंद्र सरकार के 13 मंत्रियों की आगवानी में हर विभाग का एक-एक अधिकारी तैनात किया गया है. डीएम अनिल ढींगरा के निर्देश पर हर मंत्री एवं सांसद के लिए एक लाइजन अधिकारी तैनात किया गया है.

4 स्थानों पर रुकेंगे

सरकार के मंत्री, सांसद और विधायक शहर में 4 स्थानों पर रुकेंगे.

होटल कंट्रीइन में एडीएम मवाना अंकुर श्रीवास्तव की तैनाती प्रभारी अधिकारी के तौर पर की गई है

होटल क्रोम में नायब तहसीलदार उदयवीर सिंह आगंतुकों की देखरेख करेंगे.

सरदार बल्लभभाई पटेल कृषि विवि के प्रशिक्षण छात्रावास में तहसीलदार सरधना अवनीश त्यागी प्रभारी अधिकारी होंगे.

बागपत रोड स्थित होटल सिग्नेचर में भी कुछ गेस्ट रुकेंगे.

बीजेपी प्रदेश कार्यसमिति की बैठक में विभिन्न विभागों के मंत्री, सांसद और विधायक जुट रहे हैं. वीआईपी मूवमेंट को लेकर सुरक्षा और व्यवस्था को दुरुस्त कर लिया गया है.

अनिल ढींगरा, डीएम, मेरठ