कैसे शुरू हुआ हमला
दोपहर तक चली इस मुठभेड़ में सुरक्षा बलों ने भी दो आतंकवादियों को मार गिराया. गौर करें कि यह मार्च में राज्य में पीडीपी-बीजेपी गठबंधन सरकार के गठन के बाद राज्य में पहला बड़ा आतंकवादी हमला है. इससे पहले गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने लोकसभा में बताया था कि आतंकियों ने सुबह 6 बजकर 20 मिनट पर कठुआ के राजबाग थाने पर हमला बोला. आतंकी गेट पर तैनात एक सुरक्षाकर्मी की हत्या करते हुए थाने के अंदर घुस गए. जानकारी देते हुए पुलिस अधिकारियों ने बताया कि फिदायीन दल के दो से तीन आतंकी तड़के राजबाग पुलिस थाने के अंदर आ गए. अंदर घुसते ही उन्‍होंने अंधाधुंध गोलीबारी शुरू कर दी.

कुछ ऐसा बोले पुलिस आईजी
इस बाबत जम्मू के पुलिस आईजी दानिश राणा कहते हैं कि यह एक फिदायीन हमला था. पुलिस ने जानकारी दी कि हमले में छह लोग मारे गए हैं. इन छह लोगों में दो आतंकवादी, सीआरपीएफ के दो जवान, एक पुलिसकर्मी और एक नागरिक शामिल हैं. इनके साथ ही हमले में 10 अन्य लोग घायल भी हुए हैं. इन घायलों में सीआरपीएफ के कॉन्स्टेबल भरत प्रभु भी शामिल हैं. उन्‍होंने जानकारी दी कि सेना की वर्दी पहने आतंकवादियों ने जम्मू से पठानकोठ जा रही एक जीप को पहले तो तलाशी लेने के बहाने रोका. उसके बाद आतंकियों ने उस जीप का अपहरण कर लिया. जीप में तीन यात्री बैठे थे. आतंकी भी जीप से राजबाग पुलिस थाने पहुंचे और पहुंचते ही उन्होंने एक पुलिसकर्मी पर गोलियां चला दीं. इससे वह तुरंत ही शहीद हो गया.

आतंकियों ने फेंके ग्रेनेड भी
आतंकी यहीं नहीं थमे, उन्‍होंने इसके बाद पुलिस थाने पर ग्रेनेड फेंके और अंधाधुंध गोलीबारी कर दी. गोलीबारी की खबर मिलते ही अतिरिक्त सुरक्षाबलों को घटनास्थल पर भेजा गया. हमले की गंभीरता को भांपते हुए ऐहतियातन जम्मू-पठानकोट राजमार्ग को बंद कर दिया गया. पुलिस थाने के आसपास भी पूरे इलाके की घेराबंदी कर दी गई. कठुआ व सांबा जिलों में 2013 व 2014 में पुलिस थानों व सैन्य शिविरों पर इसी प्रकार के आतंकवादी हमले किए गए थे.
 
क्‍या बोले राजनाथ सिंह
हमले को लेकर गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने जम्मू-कश्मीर के पुलिस महानिदेशक से बात की. सिंह ने गृह सचिव एल सी गोयल को स्थिति पर नजदीक से नजर रखने का निर्देश दिया. ऐसे में गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि गृह मंत्रालय स्थिति पर बेहद नजदीकी से नजर रखे हुए है. वहीं जम्मू कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री उमर अब्दुल्ला ने ट्वीट करते हुए लिखा है, 'ये फिदायीन कल रात सीमा पार से आए होंगे और उन्होंने आज सुबह हमला कर दिया. आतंकवादी पहले भी यही तरीका अपनाते रहे हैं.'

Hindi News from India News Desk

National News inextlive from India News Desk