स्वस्थ्य मंत्री ने दी बात की जानकारी
थाईलैंड (रॉयटर्स)।
थाईलैंड में बाढ़ वाली गुफा से बचाए गए 12 बच्चों और उनके कोच को अगले हफ्ते गुरुवार को अस्पताल से छुट्टी मिल जाएगी। स्वास्थ्य मंत्री पियासाकोल सकोलेसटायडोर्न ने शनिवार को इस बात की जानकारी दी। बता दें कि 23 जून के दिन एक ट्रेनिंग सेशन के दौरान ये पूरी टीम थाम लॉन्‍ग गुफाओं के भीतर गई थी। उसी दौरान अचानक तूफान आ गया और सभी गुफाएं पानी से भर गईं। 23 जून को ही स्‍थानीय लोगों को लावारिश हालत में मिली साइकिलों से पता चल गया था कि कुछ लोग गुफा में फंस गए हैं।

10 जुलाई तक सभी बाहर

इसके बाद यहां रेस्‍क्‍यू मिशन शुरु हुआ लेकिन इन सबको थाई और दुनिया के कई देशों के गोताखोरों की मदद से धीरे धीरे 10 जुलाई तक यानी कि मंगलवार को गुफा से सुरक्षित निकाला जा सका था। तब से 11 से 16 साल की उम्र के ये फुटबाल खिलाड़ी अपने 25 साल के कोच के साथ अस्पताल में भर्ती हैं। स्वास्थ्य मंत्री पियासाकोल ने मीडिया से कहा कि गुफा से निकाले गए सभी बच्चे और कोच के स्वास्थ्य में सुधार हुआ है। उन्होंने कहा कि कुछ को निमोनिया था जब उन्हें गुफा से बाहर लाया गया था लेकिन अब वे ठीक हो रहे थे। गुरुवार को एकसाथ सभी को अस्पताल से छुट्टी दे दी जाएगी।

चार पांच महीने लग सकते थे
बता दें कि थाईलैंड की बाढ़ वाली गुफा से सभी लोगों को सुरक्षित बाहर निकालना किसी के लिए आसान नहीं था। बारी बारी कर सभी बच्चों को नेवी और गोताखोरों की टीम ने गुफा से बाहर निकाला। कई लोगों ने उस वक्त अनुमान लगाया था कि सभी को गुफा से निकालने में चार-पांच महीने लग सकते हैं। इसके अलावा बता दें कि थाईलैंड की गुफा में फंसे बच्चों को बचाने के प्रयास में कुछ दिन पहले एक थाई नेवी सील कमांडो की मौत भी हो गई थी। सील कमांडो की पहचान समर पूणन के रूप में हुई। समर के मौत की वजह गुफा में ऑक्सीजन की कमी बताई गई।


थाईलैंड की गुफा से निकाले गए 8 बच्चे सुरक्षित, अब बाकी बच्चों को बचाने का अभियान फिर शुरू

थाईलैंड गुफा का बचाव अभियान खत्म, सभी बच्चे और कोच निकाले गए बाहर

International News inextlive from World News Desk