बिना मुख्य आरोपी और शूटरों की गिरफ्तारी पुलिस कर रही दनादन खुलासा

अधिवक्ता हत्याकांड में भी अब तक शूटरों तक नहीं पहुंच सकी है पुलिस

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: जिले में पिछले दिनों हुई लगातार कई बड़ी घटनाओं ने पुलिसिंग की पोल खोल दी. एक के बाद एक घटनाओं से पब्लिक का आक्रोश बढ़ा तो शासन को एसएसपी को हटाने जैसा बड़ा फैसला लेना पड़ा. लेकिन दबाव का दूसरा असर ये भी हुआ कि नए एसएसपी ने आते ही मुख्य अभियुक्तों को पकड़े बिना ही एक के बाद एक बड़ी घटनाओं का खुलासा शुरू कर दिया. यूको बैंक में करोड़ों की चोरी से लेकर फूलपुर में सभासद हत्याकांड में पुलिस ने खुलासा भले ही कर दिया हो, लेकिन दोनों ही मामलों के मुख्य आरोपी अब भी आजाद हैं.

दस लाख बरामद कर खुलासा

यूको बैंक में करोड़ों की चोरी के मामले में दस लाख की बरामदगी के साथ छह आरोपियों को जेल भेज पुलिस ने अपनी पीठ थपथपा ली. लेकिन घटना का मुख्य आरोपी और गैंग का सरगना हसन चिकना के साथ उसके मुख्य साथी मुख्तार, रहीम उर्फ टर्की और लवरेज अब भी फरार हैं. पुलिस की मानें तो करोड़ों की चोरी में 40 लाख कैस व करोड़ों के गहने इन फरार आरोपियों के पास ही हैं.

सभासद हत्याकांड में शूटर गायब

फूलपुर में सभासद पवन केसरी हत्याकांड का हाल भी ऐसा ही रहा. पुलिस ने कई लोगों को गिरफ्तार कर खुलासा तो कर दिया, लेकिन वारदात को अंजाम देने वाले दोनों शूटर साजन उर्फ बाबर, राजू एवं इनका साथी मनोज शोइरी पुलिस की गिरफ्त में नहीं आए हैं. यही नहीं, सभासद के कत्ल में प्रयोग किया गया असलहा भी बरामद नहीं किया जा सका है.

इसमें भी शूटर का नहीं कोई पता

अधिवक्ता राजेश कुमार श्रीवास्तव हत्याकांड के बाद से पुलिस की कई टीमें जांच में जुटी हैं. हालांकि पुलिस की टीमें लगातार कोशिशों में लगी हैं, लेकिन शुटरों तक नहीं पहुंच सकी हैं. ऐसे में इस मामले में भी पुलिस पिछली दोनों घटनाओं की ही आधा अधूरा खुलासा कर अपनी पीठ ना थपथपा ले. इस बात को लेकर चर्चाओं का बाजार गर्म है.