-शिक्षक भर्ती में फर्जीवाड़े की जांच में कमेटी मेंबर्स ने खंगाले दस्तावेज

-पूर्व परीक्षा नियामक सचिव व रजिस्ट्रार से घंटों हुई पूछताछ

allahabad@inext.co.in

ALLAHABAD: सूबे में पहली बार आयोजित सहायक अध्यापक लिखित परीक्षा में हुए फर्जीवाड़े और गड़बड़ी की जांच शुरू हो गई. सोमवार को जांच कमेटी के मेंबर्स सर्व शिक्षा अभियान के डायरेक्टर वेदपति मिश्रा और बेसिक शिक्षा के डायरेक्टर सर्वेन्द्र विक्रम सिंह ने लिखित परीक्षा से जुड़े सभी दस्तावेजों को खंगाला. दिन भर परीक्षा से संबंधित दस्तावेजों की जांच के साथ ही पूर्व सचिव परीक्षा नियामक प्राधिकारी डॉ. सुत्ता सिंह और रजिस्ट्रार विभागीय परीक्षा जीवेन्द्र सिंह ऐरी से पूछताछ की.

इस दौरान परीक्षा में गड़बडि़यों के साथ ही परीक्षा और मूल्यांकन व अन्य जानकारियों की जानकारी ली. दोपहर तक जांच कमेटी के दोनों अधिकारी अधिकारियों से पूछताछ में जुटे रहे और उनके बयानों को दर्ज किया. दोपहर बार बेसिक शिक्षा के डायरेक्टर सर्वेन्द्र विक्रम सिंह परीक्षा नियामक प्राधिकारी कार्यालय से चले गए. जबकि सर्व शिक्षा अभियान के डायरेक्टर वेदपति मिश्रा शाम तक जांच में जुटे रहे.

कई मामलों में हुई पूछताछ

शिक्षक भर्ती फर्जीवाड़े की जांच को पहुंची टीम के मेंबर्स ने डॉ. सुत्ता सिंह व जीवेन्द्र सिंह ऐरी के साथ ही कुछ कर्मचारियों से भी बातचीत की. इस दौरान दोनों अधिकारियों से कई मामलों में क्रास क्वैश्चन भी पूछे गए. सूत्रों की माने तो मंगलवार को भी जांच टीम के मेंबर्स दोनों अधिकारियों से पूछताछ करेंगे. जिससे गड़बडि़यों में अधिकारियों की लापरवाही से संबंधित साक्ष्य एकत्र किए जा सके. इसके बाद जांच टीम के सदस्य अपनी रिपोर्ट और साक्ष्य को जांच टीम के अध्यक्ष आईएएस गन्ना विकास एवं चीनी उद्योग के प्रमुख सचिव को सौंपेंगे. जिसके बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी.