एक्सक्लूसिव

>-बांसबल्ली पर टिके पावर सप्लाई सिस्टम को बदलने का प्रोजेक्ट ठप होने की होगी जांच

- 22 करोड़ का था प्रोजेक्ट, बांसबल्ली हटाकर पोल व एबी केबल से की जानी थी पावर सप्लाई

- तीन सुपरिटेंडेंट इंजीनियर को सौंपी जांच, अलग-अलग सर्किल में हुए काम की करेंगे जांच

kanpur@inext.co.in

KANPUR: बांसबल्ली पर टिके पावर सप्लाई सिस्टम को बदलने का प्रोजेक्ट अभी तक पूरा होना तो दूर ठप पड़ा हुआ है. मामला कैबिनेट मिनिस्टर की मीटिंग में गूंजने से केस्को में अफरातफरी मची हुई है. केस्को अफसरों ने इस प्रोजेक्ट को लेकर जांच बिठा दी है. जांच की जिम्मेदारी 3 सुपरिटेंडेंट इंजीनियर्स को सौंपी है. जांच में लापरवाही के साथ-साथ कांट्रैक्टर्स के साथ मिलीभगत कर गड़बडि़यां भी खुलकर सामने की उम्मीद हैं.

22 करोड़ का प्रोजेक्ट

सोसाइटी वाले एरिया संजीव नगर, राजीव नगर, आशा नगर सहित दर्जनों मोहल्लों में लोग घरों को रोशन करने के लिए बांसबल्ली के सहारे एक-एक किलोमीटर दूर से केबल खींचकर लाए हैं. इसकी वजह से कई बार हादसे हो चुके हैं. जान तक जा चुकी है. ऐसे 3 दर्जन से अधिक मोहल्ले केस्को के सर्किल 2, 3 व 4 में थे. इस समस्या के हल के लिए करीब दो साल पहले बांसबल्ली की जगह इलेक्ट्रिसिटी पोल व एबी केबल डालकर पावर सप्लाई का प्रोजेक्ट पास किया था.

मंत्री की मीटिंग में गूंजा था मामला

करीब 22 करोड़ के इस प्रोजेक्ट के अंर्तगत शुरूआत में तो तेजी से काम हुआ. लेकिन धीरे-धीरे ये प्रोजेक्ट कांट्रैक्ट और केस्को इम्प्लाइज की मिलीभगत का शिकार हो गया. तीन महीने से अधिक समय तक काम बन्द चल रहा है. पिछले दिनों कैबिनेट मिनिस्टर सतीश महाना की मीटिंग में ये मामला गूंजा. इससे केस्को ऑफिसर्स में अफरातफरी मच गई. उन्होंने सुपरिटेंडेंट इंजीनियर जीसी झा, वीके सोनी और विनोद गंगवार की अगुवाई में जांच बिठा दी.

कहां गया सामान?

जीएम विनोद गंगवार को सर्किल-4, वीके सोनी को सर्किल 2 और जीसी झा को सर्किल 1 के बांसबल्ली वाले मोहल्ले में हुए काम की जिम्मेदारी सौपी गई है. केस्को के डायरेक्टर आरएस यादव ने बताया कि जल्द ही काम शुरू कराया जाएगा. साथ ही जांच भी कराई जा रही है स्टोर से कितना सामान लिया गया है और प्रोजेक्ट अधूरा क्यों है?

.....

प्रोजेक्ट-बासबल्ली की जगह पोल व एबी केबल बिछाना

प्रोजेक्ट कास्ट- 22 करोड़

डिवीजन- विकास नगर, कल्याणपुर, बर्रा विश्व बैंक, नौबस्ता, गोविन्द नगर, दहेली सुजानपुर, हैरिसगंज आदि

.....

इन मोहल्लों में नहीं हटे

संजीव नगर, हाइवे सिटी, इंडस्ट्रियल एरिया, गोपाल नगर, बारा सिरोही, नागेश्वर मंदिर, मसवानपुर, नई शिवली रोड, नौबस्ता रामलीला मैदान, दामोदर नगर, खाड़ेपुर, आशा नगर, राजीव नगर, राजीव विहार

......